1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. शादियों के सीजन में सोने-चांदी की कीमत में बड़ी गिरावट, कहीं आप चूक ना जाएं मौका

शादियों के सीजन में सोने-चांदी की कीमत में बड़ी गिरावट, कहीं आप चूक ना जाएं मौका

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना नुकसान के साथ 1,770.75 डॉलर प्रति औंस पर था। चांदी भी नुकसान के साथ 22.38 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रही थी।

Alok Kumar Edited By: Alok Kumar @alocksone
Updated on: December 06, 2022 17:42 IST
सोना-चांदी- India TV Paisa
Photo:FILE सोना-चांदी

शादियों के सीजन में सोने-चांदी की कीमत में बड़ी गिरावट आई है। विदेशी बाजारों में पीली धातु की कीमत में गिरावट के बीच मंगलवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 473 रुपये टूटकर 53,898 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया। सोने की तरह चांदी भी 1,241 रुपये के नुकसान से 65,878 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई। इससे पिछले कारोबारी सत्र में सोना 54,371 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी।  सर्राफा बाजार के जानकारों का कहना है कि सोने-चांदी का अच्छा मौका है। आगे भी कीमत में बड़ी गिरावट की उम्मीद नहीं है।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी गिरावट

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना नुकसान के साथ 1,770.75 डॉलर प्रति औंस पर था। चांदी भी नुकसान के साथ 22.38 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रही थी। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के शोध विश्लेषक दिलीप परमार ने कहा कि उम्मीद से बेहतर अमेरिका के सेवा क्षेत्र के आंकड़ों से फेडरल रिजर्व पर ब्याज दरों को ऊंचा रखने का दबाव बढ़ा है। इससे पीली धातु में गिरावट आई। यह ट्रेंड आगे भी जारी रह सकता है। शादियों के सीजन में सोना-चांदी खरीदने की तैयारी कर रहे लोगों के लिए यह बेहतरीन मौका है। 

कीमत बढ़ने से आकर्षण कम हुआ 

देश का सोने का आयात चालू वित्त वर्ष के पहले सात माह (अप्रैल-अक्टूबर) में 17.38 प्रतिशत घटकर 24 अरब डॉलर रह गया।  पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में सोने का आयात 29 अरब डॉलर रहा था। आंकड़ों के अनुसार, अक्टूबर में सोने का आयात पिछले साल के समान महीने की तुलना में 27.47 प्रतिशत घटकर 3.7 अरब डॉलर रह गया है। इसी तरह अक्टूबर में चांदी का आयात भी 34.80 प्रतिशत घटकर 58.5 करोड़ डॉलर रह गया। हालांकि, अप्रैल-अक्टूबर में चांदी का आयात बढ़कर 4.8 अरब डॉलर पर पहुंच गया, जो पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 1.52 अरब डॉलर था। अप्रैल-अक्टूबर, 2022 में वस्तुओं पर व्यापार घाटा 173.46 अरब डॉलर रहा है, जो पिछले साल की समान अवधि में 94.16 अरब डॉलर था। जानकारों का कहना है कि सोने की कीमत लगातार 50 हजार के पार रहने से सोने के प्रति आकर्षण कम हुआ है। इससे मांग में कमी आई।

Latest Business News