1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विषय

knight frank india न्यूज़

India may become Asian superpower, ultra-high networth individuals to rise 11,198 in 5 years in Indi

GoodNews: 5 साल में धनकुबेरों की संख्‍या भारत में 63% बढ़कर हो जाएगी 11198, भारत बन सकता है एशिया की सुपरपावर

बिज़नेस | Feb 25, 2021, 11:20 AM IST

नाइट फ्रैंक की वेल्थ रिपोर्ट-2021 (Wealth Report 2021) के अनुसार, दुनिया भर के यूएचएनडब्ल्यूआई की संख्या 2020-25 के बीच 27 प्रतिशत बढ़कर 6,63,483 होने की उम्मीद है।

housing sales

2018 में आठ बड़े शहरों में मकानों की बिक्री 6 प्रतिशत बढ़ी, कम कीमत और आकर्षक ऑफर है इसकी वजह

बिज़नेस | Jan 08, 2019, 06:38 PM IST

संपत्ति सलाहकार कंपनी नाइट फ्रैंक इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार आठ शहरों दिल्ली-एनसीआर, मुंबई, बेंगलुरु, चेन्नई, हैदराबाद और अहमदाबाद में आवासीय बिक्री बढ़ी है।

unsold flats

कीमत घटने के बावजूद देश के 8 प्रमुख शहरों में नहीं बढ़ी मकानों की बिक्री, 4.97 लाख खाली पड़े है फ्लैट

बिज़नेस | Jul 25, 2018, 04:35 PM IST

मकान की कीमतों में कमी आने के बावजूद आठ बड़े शहरों में इस वर्ष की पहली छमाही में बिक्री मामूली 3 प्रतिशत बढ़कर 1.24 लाख इकाई रही।

पहले से तैयार मकानों को GST के तहत नहीं मिलेगी राहत, खरीदारों को चुकानी होगी अधिक कीमत

पहले से तैयार मकानों को GST के तहत नहीं मिलेगी राहत, खरीदारों को चुकानी होगी अधिक कीमत

मेरा पैसा | Jul 02, 2017, 03:32 PM IST

GST के तहत निर्माणधीन परियोजनाओं पर प्रभावी कर की दर 12 प्रतिशत तक होगी। इसमें 6.5 प्रतिशत वृद्धि होगी।

टाटा, अडानी और पतंजलि ने दिखाई सहारा समूह की सपंत्ति खरीदने में रुचि, 30 प्रॉपर्टी की चल रही है नीलामी

टाटा, अडानी और पतंजलि ने दिखाई सहारा समूह की सपंत्ति खरीदने में रुचि, 30 प्रॉपर्टी की चल रही है नीलामी

बिज़नेस | Apr 19, 2017, 09:16 PM IST

टाटा, गोदरेज, अडानी और पतंजलि जैसे कई बड़े कॉरपोरेट घरानों ने सहारा समूह की 7,400 करोड़ रुपए मूल्‍य की 30 संपत्तियों को खरीदने में अपनी रुचि दिखाई है।

रीयल्टी सेक्टर को लोन देने में बैंकों की घटी हिस्सेदारी, कुल 5.4 अरब डॉलर का मिला कर्ज

रीयल्टी सेक्टर को लोन देने में बैंकों की घटी हिस्सेदारी, कुल 5.4 अरब डॉलर का मिला कर्ज

बिज़नेस | Apr 05, 2017, 08:09 PM IST

देश के रीयल्टी सेक्टर क्षेत्र का कुल वित्तपोषण 2011 के 3.8 अरब डॉलर से 40 प्रतिशत बढ़कर 2016 में 5.4 अरब डॉलर हो गया है। हालांकि बैंको की हिस्सेदारी घटी है।

भारतीय रियल एस्‍टेट सेक्‍टर में बैंकों की हिस्‍सेदारी घटकर हुई 24%, प्राइवेट इक्विटी हैं सबसे बड़े भागीदार

भारतीय रियल एस्‍टेट में बैंकों की हिस्‍सेदारी घटकर हुई 24%, प्राइवेट इक्विटी हैं सबसे बड़े भागीदार

मेरा पैसा | Apr 05, 2017, 05:55 PM IST

रियल एस्‍टेट सेक्‍टर का कुल वित्त पोषण 2011 के 3.8 अरब डॉलर से बढ़कर 2016 में 5.4 अरब डॉलर हो गया, लेकिन इस सेक्‍टर के कर्ज में बैंकों का हिस्सा घटा है।

X