1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. मारुति की मध्य श्रेणी के SUV बाजार में कुछ नया करने की तैयारी

मारुति की मध्य श्रेणी के SUV बाजार में कुछ नया करने की तैयारी

देश की सबसे बड़ी कार विनिर्माता कंपनी मारुति सुजुकी मध्य एसयूवी श्रेणी (मिड-साइज़) में कुछ करने की योजना बना रही है ताकि बाजार में अपनी पकड़ और बढ़ा सके।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: June 06, 2021 18:28 IST
मारुति की मध्य श्रेणी के SUV बाजार में कुछ नया करने की तैयारी- India TV Paisa
Photo:MARUTISUZUKI

मारुति की मध्य श्रेणी के SUV बाजार में कुछ नया करने की तैयारी

नई दिल्ली: देश की सबसे बड़ी कार विनिर्माता कंपनी मारुति सुजुकी मध्य एसयूवी श्रेणी (मिड-साइज़) में कुछ करने की योजना बना रही है ताकि बाजार में अपनी पकड़ और बढ़ा सके। देश में वर्तमान में बीच की श्रेणी के एसयूवी खंड में हुंडई की क्रेटा और किया की सेल्टोस का दबदबा है। मारुति की एस-क्रॉस भी इस श्रेणी में एक विकल्प है लेकिन यह बड़े स्तर पर अपना प्रभाव छोड़ने में सफल नहीं हो सकी है। 

कंपनी दरअसल घरेलू यात्री वाहन श्रेणी में पचास प्रतिशत हिस्सेदारी बनाये रखने के मकसद से मध्य एसयूवी श्रेणी में कुछ नया करने जा रही है। मारुति सुजुकी के विपणन और बिक्री निदेशक शशांक श्रीवास्त ने कहा, ‘‘छोटी एसयूवी श्रेणी में विटारा ब्रेज़्ज़ा का दबदबा कायम है लेकिन मध्य स्तर की एसयूवी वाहनों की श्रेणी में हमारी हिस्सेदारी काफी कम है। इस श्रेणी में हमारे पास एस-क्रॉस है, जिसे हमने नए इंजन के साथ पिछले वर्ष अगस्त में उतारा है।’’ 

उन्होंने कहा, ‘हमारे पास मध्य एसयूवी श्रेणी में नए वाहन की योजना है पर इस वाहन की योजना के बारे में नहीं बोल सकता। हम वास्तविकता से परिचित है और मध्य एसयूवी श्रेणी में नजर गढ़ाए हुए हैं। हम निश्चित तौर पर इस क्ष्रेणी में कुछ नया देखेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘एसयूवी श्रेणी में हमारी बाजार में हिस्सेदारी केवल 13.2 प्रतिशत है। मुझे लगता है कि परेशानी यही है। हालांकि जहां तक छोटी एसयूवी श्रेणी का सवाल है तो हम बाजार में बाकियों से आगे हैं।’’ 

उन्होंने कहा कि मिड साइज एसयूवी श्रेणी में कंपनी की एस-क्रॉस का प्रदर्शन सर्वश्रेष्ठ नहीं रहा है। इस श्रेणी में बाजार में कंपनी की कुल हिस्सेदारी तेजी से फैल रहे एसयूवी खंड में हमारा प्रदर्शन कम रहने से घट रही है। उन्होंने कहा कि घरेलू यात्री वाहन श्रेणी में कंपनी पचास प्रतिशत हिस्सेदारी बनाये रखने के लिए मध्य एसयूवी श्रेणी में बड़ा कदम रखना बेहद महत्वपूर्ण है।

Write a comment
X