1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. छोटी कार और सस्ती SUV पेश करने वाली इस कंपनी ने बढ़ाए दाम, जानिए कितनी बढ़ेंगी कीमत

छोटी कार और सस्ती SUV पेश करने वाली इस कंपनी ने बढ़ाए दाम, जानिए कितनी बढ़ेंगी कीमत

मारुति सुजुकी इंडिया, रेनो इंडिया, होंडा कार्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, फोर्ड इंडिया, इसुजु, बीएमडब्ल्यू इंडिया, ऑडी इंडिया और हीरो मोटो कार्प जैसी वाहन कंपनियां पहले ही कीमतें बढ़ाने का ऐलान कर चुकी हैं।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: December 23, 2020 17:03 IST
कार की कीमतों में...- India TV Paisa
Photo:NISSAN INDIA WEBSITE

कार की कीमतों में बढ़त

नई दिल्ली। जनवरी के महीने से कार की कीमतें बढ़ाने का ऐलान करने वाली कंपनियों की लिस्ट लंबी होती जा रही है। आज जापान की वाहन कंपनी निसान ने ऐलान किया कि वो अपनी कारों के दाम बढ़ाने जा रही है। कंपनी के मुताबिक कच्चे माल की बढ़ती कीमतों को देखते हुए ये कदम उठाया गया है।

कितनी महंगी होगी कारें

निसान ने बुधवार को कहा कि वह भारत में अपने वाहनों के दाम 5 प्रतिशत तक बढ़ाएगी। कंपनी ने कच्चे माल की लागत में वृद्धि को देखते हुए अगले महीने से सभी मॉडल के दाम बढ़ाने का फैसला किया है। यानि कंपनी द्वारा पेश की जाने वाली सबसे सस्ती कार करीब 15 हजार रुपये तक महंगी हो सकती है।

किन मॉडल पर पड़ेगा असर

निसान मोटर इंडिया ने एक बयान में कहा कि संशोधित कीमत निसान और डैटसन के सभी मॉडलों पर जनवरी 2021 से प्रभावी होगी। कंपनी अपने वाहन डैटसन और निसान ब्रांड के तहत बेचती है। इसमें डैटसन रेडी गो और हाल में पेश एसयूवी मैग्नाइट और किक्स शमिल हैं। इनकी कीमतें 2.89 लाख रुपये से लेकर 14.15 लाख रुपये के बीच है।

क्यों बढ़ाई गई कीमतें

कीमत वृद्धि के बारे में निसान मोटर इंडिया के प्रबंध निदेशक राकेश श्रीवास्तव ने कहा कि बाजार की मौजूदा चुनौतीपूर्ण स्थिति में, कच्चे माल की लागत बढ़ने के कारण कंपनी निसान और डैटसन के सभी मॉडलों पर दाम बढ़ाने को लेकर बाध्य हुई है।

कौन-कौन सी कंपनी बढ़ा चुकी हैं कीमतें

निसान से पहले देश में कई और कार कंपनियों ने कीमतें बढ़ाने का ऐलान किया है। अब तक मारुति सुजुकी इंडिया, रेनो इंडिया, होंडा कार्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, फोर्ड इंडिया, इसुजु, बीएमडब्ल्यू इंडिया, ऑडी इंडिया और हीरो मोटो कार्प जैसी वाहन कंपनियां पहले ही जनवरी से कीमतें बढ़ाने की घोषणा कर चुकी हैं। इन सभी कंपनियों ने भी अपने बयान में कहा है कि कच्चे माल की लागत बढ़ने से उन्हें कीमतें बढ़ाने का कदम उठाना पड़ा है।  

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X