1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. इस भारतीय कंपनी के 97 कर्मचारी हैं करोड़पति, CEO को मिलते हैं हर साल 50 करोड़ रुपये

इस भारतीय कंपनी के 97 कर्मचारी हैं करोड़पति, CEO को मिलते हैं हर साल 50 करोड़ रुपये

इस साल कंपनी के करोड़पति कर्मचारियों की संख्या बढ़कर 97 पहुंच गई है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: May 27, 2021 9:37 IST
इस भारतीय कंपनी के 97...- India TV Paisa

इस भारतीय कंपनी के 97 कर्मचारी हैं करोड़पति, CEO को मिलते हैं हर साल 50 करोड़ रुपये

देश की दूसरी बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस (Infosys) ने एक बार फिर कमाल कर दिया है। इस साल कंपनी के करोड़पति कर्मचारियों की संख्या बढ़कर 97 पहुंच गई है। ये कंपनी में Infosys में वाइस प्रेसिडेंट और सीनियर वाइस प्रेसिडेंट स्तर के अधिकारी हैं। वहीं पिछले वित्तीय वर्ष 2019-20 में करोड़पति कर्मचारियों की संख्या 74 थी। जबकि दो साल पहले कंपनी में 64 करोड़पति कर्मचारी थे। दूसरी ओर कंपनी के सीईओ सलिल पारेख को इस साल वेतन में 45 प्रतिशत की ग्रोथ मिली है। इस प्रकार इस साल उनका वेतन 49.68 करोड़ रुपये हो गया है। जबकि वित्त वर्ष 2020 में उनका वेतन 34.27 करोड़ रुपये था।

पारेख की सैलरी की बात की जाए तो 2015 प्लान के तहत उन्हें कंपनी से 2.92 लाख रिस्ट्रेक्टेड शेयर मिले हैं, वहीं 21 में उन्हें 1 लाख और शेयर मिले, जिसकी कीमत 30.99 करोड़ रुपये है। वहीं कंपनी के प्रेसिडेंट नंदन नीलेकणी ने स्वेच्छा से इस अवधि के दौरान अपनी सेवाओं के लिए कोई पारिश्रमिक प्राप्त नहीं करने का विकल्प चुना। इसके अलावा कंपनी के सीओओ प्रवीण राव का वेतन 63 प्रतिशत बढ़कर 17.33 करोड़ रुपये हो गया। वित्त वर्ष 2021 में प्रेसिडेंट मोहित जोशी और रवि कुमार ने क्रमशः 34.82 करोड़ रुपये और 25.54 करोड़ रुपये कमाए। 

पढें-  हिंदी समझती है ये वॉशिंग मशीन! आपकी आवाज पर खुद धो देगी कपड़े

पढें-  किसान सम्मान निधि मिलनी हो जाएगी बंद! सरकार ने लिस्ट से इन लोगों को किया बाहर

97 कर्मचारी करोड़पति 

प्रमुख अधिकारियों के अलावा, इंफोसिस में सालाना 1.02 करोड़ रुपये सैलरी पाने वाले अधिकारियों की संख्या वित्त वर्ष 2021 में बढ़कर 97 हो गई, जो पिछले साल 74 थी। भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी सेवा फर्म ने एक शानदार कारोबारी गति के साथ वर्ष का समापन किया है। नीलेकणि ने कहा कि इंफोसिस के निवेश से सही समाधान तैयार करने और विकसित करने, क्लाइंट फोकस और डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर के अपने परिवर्तन ने परिवर्तनकारी सौदे जीतने में मदद की।

पढें-  LPG ग्राहकों को मिल सकते हैं 50 लाख रुपये, जानें कैसे उठा सकते हैं लाभ

पढें-  खुशखबरी! हर साल खाते में आएंगे 1 लाख रुपये, मालामाल कर देगी ये स्कीम

अन्य कंपनियों के CEO की क्या है सैलरी 

देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टीसीएस की बात करें तो कंपनी के सीईओ राजेश गोपीनाथन ने वित्त वर्ष 2021 में 20.4 करोड़ रुपये कमाए, जो पिछले साल से 13 करोड़ रुपये से अधिक था। वहीं जनवरी 2020 में इस्तीफा देने वाले विप्रो के पूर्व सीईओ अबिदाली नीमचवाला को 34 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया था। विप्रो के सीईओ थियरी डेलापोर्टे का वार्षिक पैकेज 37.9 करोड़ रुपये (4.45 मिलियन यूरो) है। उन्होंने 6 जुलाई, 2020 को कार्यभार संभाला था

Write a comment
Click Mania
bigg boss 15