1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. PM kisan Samman Nidhi के तहत तभी मिलेंगे 6000 रुपए, जब आपके पास होगी इतने एकड़ जमीन

PM kisan Samman Nidhi के तहत तभी मिलेंगे 6000 रुपए, जब आपके पास होगी इतने एकड़ जमीन

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए आप खुद घर बैठे रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। इसके लिए आपके पास अपने खेत की खतौनी, आधार कार्ड, मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट नंबर होना जरूरी है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: October 06, 2020 12:22 IST
pm kisan samman nidhi yojana: if you have land then only will get Rs 6000 annually- India TV Paisa
Photo:PM KISAN

pm kisan samman nidhi yojana: if you have land then only will get Rs 6000 annually

नई दिल्‍ली। केंद्र सरकार की महत्‍वाकांक्षी योजना प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना (PM kisan Samman Nidhi) किसानों के लिए बहुत महत्‍वपूर्ण है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत सरकार किसानों के बैंक खातों में हर साल 6,000 रुपए तीन बराबर किस्‍तों में जमा करती है। केंद्रीय कृषि मंत्रालय  के मुताबिक सितंबर, 2020 तक देश के 10 करोड़ 65 लाख से अधिक किसानों ने पीएम किसान के लिए अपना रजिस्ट्रेशन करवा लिया है। पिछले 30 दिन में ही मोदी सरकार ने 38 लाख से अधिक किसानों के बैंक अकाउंट में 2000-2000 रुपए भेज दिए हैं। अगर आप ने भी अभी तक रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है तो जल्दी रजिस्ट्रेशन करा लें।

घर बैठे करें रजिस्ट्रेशन

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए आप खुद घर बैठे रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। इसके लिए आपके पास अपने खेत की खतौनी, आधार कार्ड, मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट नंबर होना जरूरी है। इसके लिए आपको पीएम किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.nic.in पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

इन किसानों को मिलता है फायदा

पीएम किसान सम्मान निधि के तहत पहले केवल उन्‍हीं किसानों को नकद राशि उपलब्‍ध करवाई जा रही थी, जिनके पास 2 हेक्‍टेयर (5 एकड़) से कम कृषि योग्‍य जमीन है। लेकिन बाद में सरकार ने इस सीमा को खत्‍म कर सभी किसानों के लिए इस योजना को लागू कर दिया। लेकिन इसमें एक शर्त है कि जो लोग इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते हैं या जिनको मासिक 10,000 रुपए से अधिक पेंशन मिलती है, वो पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए पात्र नहीं होगा। इसमें केंद्र या राज्‍य सरकार के कर्मचारियों सहित पेशेवरों जैसे वकील, डॉक्टर, सीए आदि को भी इस योजना से बाहर रखा गया है।

Write a comment