1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. मध्‍यम वर्ग के सपनों को पूरा करने के लिए काम कर रही है सरकार, पीएम मोदी ने लाल किले से किया ऐलान

मध्‍यम वर्ग के सपनों को पूरा करने के लिए काम कर रही है सरकार, पीएम मोदी ने लाल किले से किया ऐलान

मध्यम वर्ग को जितने अवसर मिलते हैं, वो अनेक गुणा ताकत के साथ उभर करके आते हैं। मध्यम वर्ग चमत्कार करने की ताकत रखता है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: August 15, 2020 18:08 IST
PM Modi said about the middle class in Independence Day speech- India TV Paisa
Photo:PTI

PM Modi said about the middle class in Independence Day speech

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश के मध्यम वर्ग की ताकत को रेखांकित करते हुए कहा कि मध्यम वर्ग को नए अवसर चाहिए, उसको खुला मैदान चाहिए और सरकार लगातार मध्यमवर्ग के सपनों को पूरा करने के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार, सरकारी दखलंदाजी खत्म करने, नए अवसर मुहैया कराने और सबको बराबरी का मौका देने के लिए काम कर रही है।

मध्यम वर्ग को जितने अवसर मिलते हैं, वो अनेक गुणा ताकत के साथ उभर करके आते हैं। मध्यम वर्ग चमत्कार करने की ताकत रखता है। मोदी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि मध्‍यम वर्ग को सरकारी दखलंदाजी से मुक्ति चाहिए, नए अवसर चाहिए, खुला मैदान चाहिए और हमारी सरकार लगातार मध्‍यम वर्ग के इन सपनों को पूरा करने के लिए काम कर रही है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने बेहतर रहन सहन, सस्‍ते इंटरनेट, सस्ते स्मार्टफोन और सस्ती हवाई यात्रा जैसी कई पहल की हैं, जिसका फायदा सीधे मध्यम वर्ग को होगा। उन्होंने कहा कि हमारे हाईवेज हों इन्फोर्मेशन वेज हों - ये सारी चीजें मध्यम वर्ग की ताकत को बढ़ाने वाली हैं।  उन्होंने आवास ऋण के लिए सरकार द्वारा दी जा रही राहत का जिक्र करते हुए कहा कि हमने ईएमआई के क्षेत्र में बड़ा काम किया है, उसके कारण आवास ऋण सस्‍ते हुए हैं और जब कोई आवास ऋण लेता है तो लोन पूरा करते-करते करीब छह लाख रुपए की उसको छूट मिल जाती है।

कई आवास परियोजनाओं के अधर में लटकने के कारण अपने घर का सपना सजाये लोगों को उनका घर नहीं मिल पाने की समस्या पर मोदी ने कहा, ‘‘कई गरीब- मध्यम वर्ग के परिवारों ने पैसे लगाये लेकिन योजनायें पूरी नहीं हो पाने के कारण खुद का घर मिल नहीं पा रहा है। ew

Write a comment