1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. भारत में इस साल के अंत तक आएगा डिजिटल करेंसी मॉडल, RBI ने दी जानकारी

भारत में इस साल के अंत तक आएगा डिजिटल करेंसी मॉडल, RBI ने दी जानकारी

केंद्रीय बैंक डिजिटल करेंसी पर काम कई वर्षों से चल रहा है। प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी जैसे बिटकॉइन के माध्यम से डिजिटल करेंसी ने बहुत अधिक लोकप्रियता हासिल कर ली है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: August 06, 2021 17:06 IST
RBI says Digital currency model likely by the end of year- India TV Paisa

RBI says Digital currency model likely by the end of year

नई दिल्‍ली। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने उम्‍मीद जताई है कि वह देश में व्‍यवस्थित डिजिटल करेंसी के ऑपरेशन के लिए मॉडल को इस साल के अंत तक पेश कर सकता है। आरबीआई के डिप्‍टी गवर्नर टी रबि शंकर ने शुक्रवार को कहा कि आरबीआई व्‍यवस्थित डिजिटल करेंसी को पेश करने की संभावना पर आंतरिक मूल्‍याकंन कर रहा है। आरबीआई इसकी संभावना, टेक्‍नोलॉजी, वितरण तंत्र और मान्‍यता तंत्र जैसे मुद्दों को हल करने में जुटा है।

22 जुलाई को अपने एक वक्‍तव्‍य में शंकर ने कहा था कि भारत भी चरणबद्ध ढंग से एक डिजिटल करेंसी को पेश करने पर विचार कर रहा है क्‍योंकि अब इसका समय आ गया है। चीन ने अपनी डिजिटल करेंसी के लिए एक ट्रायल रन शुरू कर दिया है, जबकि बैंक ऑफ इंग्‍लैंड एवं यूएस फेडरल रिजर्व भी डिजिटल करेंसी पर विचार कर रहे हैं।

शंकर ने मौद्रिक समीक्षा नीति के बाद प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में संवाददाताओं से कहा कि डिजिटल करेंसी की शुरुआत को लेकर कोई निश्चित तारीख बताना अभी मुश्‍किल होगा। हम निकट भविष्‍य में इसके लिए एक मॉडल पेश करेंगे, संभवता यह इस साल के अंत तक होगा।      

22 जुलाई को शंकर ने कहा था कि डिजिटल करेंसी भविष्‍य में हर देश के केंद्रीय बैंक के पास होगी और इस तरह की प्रणाली को स्‍थापित करने के लिए एक सूक्ष्‍म दृष्टिकोण की आवश्‍यकता होगी। केंद्रीय बैंक डिजिटल करेंसी पर काम कई वर्षों से चल रहा है। प्राइवेट क्रिप्‍टोकरेंसी जैसे बिटकॉइन के माध्‍यम से डिजिटल करेंसी ने बहुत अधिक लोकप्रियता हासिल कर ली है। यह ब्‍लॉकचेन टेक्‍नोलॉजी पर आधारित आभासी मुद्रा है।

प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बोलते हुए आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने यह स्‍पष्‍ट किया कि केंद्रीय बैंक की प्राइवेट डिजिटल करेंसी के साथ चिंताएं बरकरार हैं, जो कि नियमित नहीं हैं और इस चिंता से हमनें सरकार को भी अवगत कराया है। इस बीच उन्‍होंने कहा कि डिजिटल लेंडर्स द्वारा ऋण लेने वालों के आत्‍महत्‍या करने के मामले पर जांच करने वाली विशेषज्ञ समिति का काम अंतिम चरण में है और इस महीने के अंत तक समिति अपनी रिपोर्ट सौंप देगी। दास ने कहा कि एक बार रिपोर्ट मिल जाने के बाद, आरबीआई इसका अध्‍ययन करेगा और सिफारिशों के आधार पर उचित कार्रवाई करेगा।

यह भी पढ़ें: अगर आपके पास भी है कोई बेहतर आइडिया तो उसे बिजनेस में बदलेगा सिडबी

यह भी पढ़ें: मुकेश अंबानी को लगा झटका, सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया आज ये फैसला

यह भी पढ़ें: Renault ने भारत में लॉन्‍च की नई SUV, कीमत है 7.37 लाख रुपये

यह भी पढ़ें: तत्‍काल कर लें आप यह काम, वर्ना 15 अगस्‍त के बाद नहीं कर पाएंगे कोई कामकाज

Write a comment
Click Mania
Modi Us Visit 2021