1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. बैंक विलय को लेकर RBI करेगा ग्राहकों के बीच सर्वे, संतुष्टि से जुड़े पूछे जाएंगे सवाल

बैंक विलय को लेकर RBI करेगा ग्राहकों के बीच सर्वे, संतुष्टि से जुड़े पूछे जाएंगे सवाल

इन ग्राहकों से ग्राहक सेवाओं और शिकायतों के समाधान को लेकर उनके अनुभवों के बारे में पूछा जाएगा।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 26, 2021 19:10 IST
RBI to conduct customer satisfaction survey on bank mergers- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

RBI to conduct customer satisfaction survey on bank mergers

नई दिल्‍ली। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने हाल में हुए सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के विलय के संबंध में ग्राहकों की संतुष्टि के बारे में पता लगाने के लिए एक सर्वेक्षण करने का फैसला किया है। ग्राहक संतुष्टि सर्वेक्षण के तहत अन्य सवालों के अलावा यह भी पूछा जाएगा कि क्या विलय ग्राहक सेवाओं के लिहाज से सकारात्मक रहा या नहीं। इस सवाल के जवाब में ग्राहकों के पास अत्यधिक सहमत, सहमत, ठीकठाक, असहमत, अत्यधिक असहमत, जैसे विकल्प होंगे।

प्रस्तावित सर्वेक्षण में उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, बिहार, कर्नाटक, मध्य प्रदेश और गुजरात सहित 21 राज्यों के कुल 20,000 उत्तरदाता शामिल होंगे और इसमें कुल 22 प्रश्न होंगे। इन 22 सवालों में चार सवाल खासतौर से उन बैंकों के ग्राहकों के लिए हैं, जिनकी शाखाओं का दूसरे बैंक की शाखाओं में विलय किया गया है। इन ग्राहकों से ग्राहक सेवाओं और शिकायतों के समाधान को लेकर उनके अनुभवों के बारे में पूछा जाएगा।

पीएसबी बैंकों के विलय के तहत देना बैंक और विजया बैंक को बैंक ऑफ बड़ौदा में मिलाया गया था, ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया को पंजाब नेशनल बैंक में मिलाया गया, केनरा बैंक के साथ सिंडिकेट बैंक को मिलाया गया। इसके अलावा इंडियन बैंक के साथ इलाहाबाद बैंक और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के साथ आंध्रा बैंक और कॉर्पोरेशन बैंक का विलय हुआ। इसके अलावा लक्ष्मी विलास बैंक का डीबीएस बैंक में विलय किया गया।

प्रॉक्टर एंड गैंबल कोविड टीकाकरण के लिए देगी 50 करोड़ रुपये

एफएमसीजी कंपनी प्रॉक्टर एंड गैंबल (पीएडंजी) ने सोमवार को कहा कि वह कोविड-19 टीकाकरण के लिए 50 करोड़ रुपये का योगदान करेगी, जिसके तहत सरकार और स्थानीय प्राधिकरणों के साथ मिलकर पांच लाख भारतीयों को वैक्सीन लगाई जाएगी। कंपनी ने एक बयान में कहा कि वह भारत में उसके प्रत्येक पीएडंजी कर्मचारी के लिए 100 भारतीयों को वैक्सीन लगवाएगी। इसके अलावा कंपनी अपने 5,000 से अधिक कर्मचारियों, और उनके परिवारिक सदस्यों को भी टीका लगवाने का खर्च उठाएगी।

पीएडंजी भारतीय उपमहाद्वीप के सीईओ मधुसूदन गोपालन ने कहा कि पीएडंजी, कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई में सक्रिय भूमिका निभाने के लिए प्रतिबद्ध है और हम भारत में अपने प्रत्येक कर्मचारी पर 100 नागरिकों का टीकाकरण करते हुए कुल पांच लाख वैक्सीन की खुराक के लिए 50 करोड़ रुपये का योगदान करेंगे।

Reliance ने covid-19 मरीजों की सहायता के लिए बढ़ाया अपना हाथ, इन जगहों पर फ्री होगा इलाज

खुशखबरी: छोटे शहरों के लोगों को रेल के किराये में मिलेगी हवाई जहाज की सुविधा...

Covishield से डबल कीमत पर मिलेगा Covaxin का टीका, कंपनी ने तय की ये कीमत

पीएम मोदी ने की घोषणा, 80 करोड़ लोगों को मिलेगा 26 हजार करोड़ का फायदा

Write a comment
X