1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. कोरोना वायरस की चिंता के बीच आई खुशखबरी, फरवरी में खुदरा महंगाई दर घटी

कोरोना वायरस की चिंता के बीच आई खुशखबरी, फरवरी में खुदरा महंगाई दर घटी

जनवरी माह में देश का औद्योगिक उत्पादन की दर बढ़कर 2 प्रतिशत हो गई, जो एक साल पहले समान माह में 1.6 प्रतिशत थी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: March 12, 2020 18:27 IST
Retail inflation slows to 6.58 per cent in February , Industrial output grows by 2 pc in January - India TV Paisa

Retail inflation slows to 6.58 per cent in February , Industrial output grows by 2 pc in January

नई दिल्‍ली। कोरोना वायरस की चिंता के बीच गुरुवार को दो अच्‍छी खबरें आईं हैं। फरवरी में प्‍याज की कीमत घटने से खुदरा महंगाई दर घटकर 6.58 प्रतिशत हो गई, जो इससे पहले जनवरी माह में 7.59 प्रतिशत तक पहुंच गई थी। सरकार द्वारा जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। सरकारी आंकड़ों में कहा गया है कि खाद्य पदार्थों की कीमत में नरमी आने की वजह से खुदरा महंगाई दर घटी है। उपभोक्‍ता मूल्‍य सूचकांक आधारित खुदरा महंगाई दर जनवरी, 2020 में 7.59 प्रतिशत और फरवरी, 2019 में 2.57 प्रतिशत थी।

फरवरी 2020 में खाद्य पदार्थों की महंगाई दर 10.81 प्रश्तिात रही, जो जनवरी के 13.63 प्रतिशत की तुलना में कम है। भारतीय रिजर्व बैंक अपनी द्विमासिक मौद्रि‍क नीति समीक्षा में प्रमुख रूप से खुदरा महंगाई दर पर ध्‍यान देता है। सरकार ने केंद्रीय बैंक को महंगाई दर को 4 प्रतिशत के दायरे में रखने का निर्देश दिया है।

वहीं दूसरी ओर आधिकाारिक आंकड़ों में बताया गया है कि जनवरी माह में देश का औद्योगिक उत्‍पादन की दर बढ़कर 2 प्रतिशत हो गई, जो एक साल पहले समान माह में 1.6 प्रतिशत थी। विनिर्माण क्षेत्र के कमजोर प्रदर्शन के कारण भारत के औद्योगिक उत्‍पादन की वृद्धि दर जनवरी, 2020 में 2 प्रतिशत रही। औद्योगिक उत्‍पादन का सूचकांक जनवरी, 2019 में 1.6 प्रतिशत था।  

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार विनिर्माण क्षेत्र के कमजोर प्रदर्शन की वजह से औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि की रफ्तार सुस्त बनी हुई है। आंकड़ों के अनुसार जनवरी में विनिर्माण क्षेत्र का उत्पादन 1.5 प्रतिशत बढ़ा। एक साल पहले समान महीने में विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि दर 1.3 प्रतिशत थी। इसी तरह बिजली उत्पादन 3.1 प्रतिशत बढ़ा। जनवरी, 2019 में बिजली क्षेत्र का उत्पादन 0.9 प्रतिशत बढ़ा था।

जनवरी, 2020 में खनन क्षेत्र की वृद्धि दर 4.4 प्रतिशत रही। एक साल पहले समान महीने में इस क्षेत्र का उत्पादन 3.8 प्रतिशत बढ़ा था। चालू वित्त वर्ष के पहले दस माह (अप्रैल, 2019 से जनवरी, 2020) के दौरान औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर घटकर 0.5 प्रतिशत पर आ गई है। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में औद्योगिक उत्पादन 4.4 प्रतिशत बढ़ा था। 

Write a comment
X