1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. सीतारमण ने की येलेन से मुलाकात, धन शोधन और आतंकी वित्‍तपोषण पर की चर्चा

सीतारमण ने की येलेन से मुलाकात, धन शोधन से लेकर आतंकी वित्‍तपोषण और FATF स्‍टैंडर्ड के प्रभावी अनुपालन पर की चर्चा

दोनों पक्ष वित्तीय अपराधों से निपटने के महत्व पर और हमारी वित्तीय प्रणालियों को दुरुपयोग से बचाने के लिए ‘वित्तीय कार्रवाई कार्य बल’ मानकों के प्रभावी कार्यान्वयन पर सहमत हैं।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: October 15, 2021 17:30 IST
Sitharaman, Yellen discuss fighting money laundering, combating terror funding- India TV Hindi News
Photo:MINISTRYOFFINANACE@TWITTER

Sitharaman, Yellen discuss fighting money laundering, combating terror funding

वाशिंगटन। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपनी अमेरिकी समकक्ष जेनेट येलेन के साथ  अवैध आर्थिक गतिविधियों, धन शोधन से निपटने और आतंकवाद के वित्तपोषण का मुकाबला करने सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा की। भारत-अमेरिका आर्थिक एवं वित्तीय साझेदारी (ईएफपी) की आठवें दौर की बातचीत के दौरान दोनों नेताओं के बीच यह बातचीत हुई। वित्त मंत्रालय ने ट्वीट किया कि सीतारमण और येलेन ने अवैध आर्थिक गतिविधियों, धन शोधन से निपटने और आतंकवाद के वित्तपोषण का मुकाबला करने के मुद्दों पर जोर दिया।

दोनों देशों ने इस बैठक के बाद एक संयुक्त बयान भी जारी किया। बैठक में एफएटीएफ मानकों के प्रभावी कार्यान्वयन का महत्व पर भी सहमति व्यक्त की गई। धन शोधन और आंतकी वित्त पोषण के खिलाफ पेरिस स्थित वैश्विक निकाय ने जून में धन शोधन की जांच करने में विफल रहने के कारण पाकिस्तान को अपनी 'ग्रे सूची' में बनाए रखा था। बयान में कहा गया कि हम अधिक जानकारी साझा करने और समन्वय के माध्यम से धन शोधन से निपटने और आतंकवाद के वित्तपोषण का मुकाबला करने में अपने सहयोग को मजबूत करना जारी रखेंगे।

दोनों पक्ष वित्तीय अपराधों से निपटने के महत्व पर और हमारी वित्तीय प्रणालियों को दुरुपयोग से बचाने के लिए ‘वित्तीय कार्रवाई कार्य बल’ मानकों के प्रभावी कार्यान्वयन पर सहमत हैं। कोविड-19 वैश्विक महामारी के प्रकोप के बाद ‘भारत-अमेरिका आर्थिक एवं वित्तीय साझेदारी’ (ईएफपी) की पहली बैठक में दोनों देश सीमा पार धन के लेनदेन, भुगतान प्रणाली और अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केन्द्र के विकास जैसे उभरते वित्तीय क्षेत्रों पर आगे भी भागीदारी करने को सहमति हुए।

सीतारमण और येलेन के अलावा बैठक में ‘फेडरल रिजर्व सिस्टम’ के अध्यक्ष जेरोम पॉवेल और भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास भी शामिल हुए। सीतारमण और येलेन ने वैश्विक आर्थिक मुद्दों को हल करने के लिए द्विपक्षीय और बहुपक्षीय दोनों तरह से संबंध जारी रखने की अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टि की। दोनों नेताओं ने कोविड-19 संकट के जीवन और आजीविका पर पड़े प्रभाव को भी रेखांकित किया। बयान में कहा गया कि हम सहायक नीतियों को तब तक कायम रखने पर सहमत हुए जब तक कि मजबूत एवं समावेशी सुधार मजबूती से स्थापित नहीं हो जाते।  

यह भी पढ़ें: इस बार दिवाली की साफ-सफाई व पुताई पर खर्च होंगे ज्‍यादा पैसे, जानिए क्‍यों

यह भी पढ़ें: संकट के बीच बिजली कंपनियां कमा रही हैं खूब फायदा, 6 रुपये/यूनिट वाली बिजली बिक रही है 20 रुपये में

यह भी पढ़ें: 5 लाख रुपये में हैरियर जैसी SUV लॉन्‍च करेगी टाटा मोटर्स 18 अक्‍टूबर को

यह भी पढ़ें: Ampere ने लॉन्‍च किया 68999 रुपये में ई-स्‍कूटर Magnus EX, 121 किलोमीटर का है माइलेज

Latest Business News

Write a comment
>independence-day-2022