1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. विश्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष 2019-20 में भारत के लिए 5% विकास दर का अनुमान लगाया

विश्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष 2019-20 में भारत के लिए 5% विकास दर का अनुमान लगाया

विश्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष 2019-2020 में भारत के लिए पांच प्रतिशत विकास दर का अनुमान लगाया है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: January 09, 2020 8:04 IST
World Bank, growth rate, India, GDP, GDP growth rate- India TV Paisa

World Bank 

नई दिल्ली। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय से जारी आंकड़ों के बाद बुधवार को विश्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष 2019-2020 में भारत के लिए पांच प्रतिशत विकास दर का अनुमान लगाया है। विश्व बैंक ने भारत के जीडीपी ग्रोथ के अनुमान को घटा दिया है। वर्ल्ड बैंक ने कहा है कि चालू वित्त वर्ष यानी 2019-2020 में भारत की जीडीपी में बढ़त दर 5 फीसदी रह सकती है। हालांकि, वर्ल्ड बैंक ने अगले वित्त वर्ष 2020-2021 में भारत के जीडीपी में सिर्फ 5.8 फीसदी बढ़त का अनुमान लगाया है। बता दें कि मौजूदा वित्त वर्ष 31 मार्च 2020 को खत्म होगा।

विश्व बैंक ने कहा, भारत में जहां गैर-बैंक वित्तीय कंपनियों से ऋण में कमजोरी की आशंका है वहीं वित्त वर्ष 2019-20 में विकास दर पांच प्रतिशत तक धीमी होने का अनुमान है, और अगले वित्त वर्ष में 5.8 प्रतिशत तक की वसूली होगी। विश्व बैंक ने कहा है कि भारत से तेज विकास दर बांग्लादेश की होगी, जहां इस वित्त वर्ष जीडीपी में 7 फीसदी की बढ़ोतरी हो सकती है वहीं दूसरी तरफ, खस्ताहाल चल रहे पाकिस्तान की जीडीपी में इस वित्त वर्ष में महज 3 फीसदी की बढ़त हो सकती है। 

सीएसओ ने भी चालू वित्त वर्ष 2019-20 में 5% आर्थिक विकास दर का जताया है अनुमान

गौरतलब है कि भारत सरकार की ओर से केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने मंगलवार को जीडीपी के पूर्वानुमान के आंकड़े पेश किए। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (CSO) द्वारा जारी पूर्वानुमान में भी कहा गया है कि चालू वित्त वर्ष 2019-2020 में देश की जीडीपी में महज 5 फीसदी की बढ़त होगी। सीएसओ के आंकड़ों के मुताबिक, चालू वित्त वर्ष 2019-20 में सकल घरेलू उत्पाद (GDP) पांच फीसदी रहने का अनुमान है जो पिछले 11 साल में सबसे कम है। इससे पहले 2018-19 में वास्तविक ग्रोथ 6.8% रही थी, वहीं वित्त वर्ष 2017-18 में जीडीपी ग्रोथ 7.2 फीसदी थी। वहीं ग्रॉस वैल्यू एडेड (जीवीए) 4.9 फीसदी रह सकती है जो इससे पहले 2018-19 में 6.6 फीसदी थी। इससे पहले भारतीय रिजर्व बैंक ने भी दिसंबर 2019 में 5 फीसदी जीडीपी ग्रोथ रेट का अनुमान लगाया था।  

Write a comment