1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Airtel ने इसी महीने 5G सर्विस शुरू करने का किया ऐलान, 2024 तक देश के हर शहर मिलेगा फास्ट नेटवर्क

Airtel ने इसी महीने 5G सर्विस शुरू करने का किया ऐलान, कीमतों की बात सुनकर उड़ जाएंगे होश

भारती एयरटेल ने हाल में संपन्न स्पेक्ट्रम नीलामी में पूरे देश में 3.5 गीगाहर्ट्ज और 26 गीगाहर्ट्ज बैंड में 19,867.8 मेगाहर्ट्ज फ्रीक्वेंसी हासिल की। कंपनी ने कुल 43,040 करोड़ रुपये में निम्न और मध्यम बैंड में स्पेक्ट्रम खरीदा है।

Indiatv Paisa Desk Written By: Indiatv Paisa Desk
Published on: August 09, 2022 19:22 IST
4G Vs 5G - India TV Hindi News
Photo:FILE 4G Vs 5G

Airtel 5G: देश के करोड़ों मोबाइल यूजर्स के लिए 5जी इंटरनेट का इंतजार इसी महीने खत्म होने जा रहा है। टेलिकॉम कंपनी भारती एयरटेल इसी महीने से 5जी सेवाएं शुरू करने की घोषणा कर दी है। इसके साथ ही कंपनी ने घोषणा की है कि मार्च, 2024 तक देश के सभी शहरों तथा बड़े गांवों तक 5जी सर्विसेज़ शुरू कर दी जाएंगी। 

5G Rollout

Image Source : FILE
5G Rollout

महंगी होंगी 5G सेवाएं?

कंपनी के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) गोपाल विट्टल ने मंगलवार को इस बारे में घोषणा करते हुए कहा कि देश में मोबाइल सेवाओं की कीमत काफी कम है और इसे बढ़ाये जाने की जरूरत है। विट्टल ने कहा, ‘‘हमारा 5जी सेवाएं अगस्त से शुरू करने का इरादा है। जल्दी ही इसे देशभर में पहुंचाया जाएगा। हमें भरोसा है कि हम मार्च, 2024 तक देश के प्रत्येक शहर और प्रमुख ग्रामीण इलाकों में 5जी सेवाएं शुरू कर देंगे।’’ 

Internet Speed

Image Source : FILE
Internet Speed

देश के 5000 शहरों में मिलेंगी 5G सेवाएं 

विट्टल ने कहा, ‘‘वास्तव में, देश में 5,000 शहरों में नेटवर्क क्रियान्वयन की विस्तृत योजना पूरी तरह तैयार है। यह कंपनी के इतिहास में अबतक का सबसे बड़ा क्रियान्वयन होगा।’’ भारती एयरटेल ने हाल में संपन्न स्पेक्ट्रम नीलामी में पूरे देश में 3.5 गीगाहर्ट्ज और 26 गीगाहर्ट्ज बैंड में 19,867.8 मेगाहर्ट्ज फ्रीक्वेंसी हासिल की। कंपनी ने कुल 43,040 करोड़ रुपये में निम्न और मध्यम बैंड में स्पेक्ट्रम खरीदा है। 

Mobile Generations

Image Source : FILE
Mobile Generations

700 मेगाहर्ट्ज बैंड पर किया खुलासा 

विट्टल ने कहा कि कंपनी का पूंजी व्यय मौजूदा स्तर पर बना रहेगा। उन्होंने महंगे और बेहतर माने जाने वाले 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में स्पेक्ट्रम खरीदने की जरूरत को तवज्जो नहीं दी। इस बैंड में स्पेक्ट्रम से अन्य बैंड के मुकाबले दूरसंचार सेवाओं के लिये कम मोबाइल टावर लगाने की जरूरत होती है। उन्होंने कहा, ‘‘हमारी प्रतिस्पर्धी कंपनियां के पास बड़े स्तर पर मध्यम बैंड स्पेक्ट्रम नहीं है। अगर हमारे पास इतने बड़े स्तर पर मूल्यवान मध्यम बैंड में स्पेक्ट्रम नहीं होता, तो हमारे लिये 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में स्पेक्ट्रम लेने के अलावा कोई विकल्प नहीं होता।’’ 

5G in Other Contries

Image Source : FILE
5G in Other Contries

जल्द बढ़ सकती हैं 4G की दरें?

विट्टल ने कहा कि कंपनी के पास 900 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम बैंड है और उसकी तुलना में 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में नेटवर्क से कोई अतिरिक्त कवरेज नहीं मिलता है। उन्होंने कहा कि एयरटेल की मासिक प्रति ग्राहक औसत कमाई (एआरपीयू) 183 रुपये है और इसके जल्दी ही शुल्क दरों में वृद्धि के साथ 200 रुपये तथा अंततरू 300 रुपये पर पहुंचने का अनुमान है। 

Telecom Sector of India

Image Source : FILE
Telecom Sector of India

Latest Business News

navratri-2022