Monday, April 15, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. भारत ने पश्चिमी देशों को 6.65 अरब डॉलर का तेल किया एक्सपोर्ट! रूस का नाम लेकर किया गया दावा

भारत ने पश्चिमी देशों को 6.65 अरब डॉलर का तेल किया एक्सपोर्ट! रूस का नाम लेकर किया गया दावा

फिनलैंड स्थित रिसर्च सेंटर ‘सेंटर फॉर रिसर्च ऑन एनर्जी एंड क्लीन एयर’ने एक रिपोर्ट में कहा है कि भारत रूस से आयातित कच्चे तेल को रिफाइन कर जी-7 के देशों और यूरोपीय संघ और ऑस्ट्रेलिया को एक्सपोर्ट कर रहा है।

Sourabha Suman Edited By: Sourabha Suman @sourabhasuman
Updated on: February 21, 2024 20:31 IST
रूस-यूक्रेन युद्ध के दौरान भारत ने रूस से सस्ती दरों पर कच्चे तेल का आयात किया।- India TV Paisa
Photo:FILE रूस-यूक्रेन युद्ध के दौरान भारत ने रूस से सस्ती दरों पर कच्चे तेल का आयात किया।

यूरोप के एक शोध संस्थान ने भारत को लेकर एक बड़ा दावा किया है। इसमें संस्थान का कहना है कि भारत ने पिछले 13 महीनों में जी-7 के नेतृत्व वाले गठबंधन देशों को जो पेट्रोलियम एक्सपोर्ट किया है उसमें एक-तिहाई हिस्सा रूस से आयातित कच्चे तेल का है। दावा है कि रूसी कच्चे तेल का आयात कर भारत ने उसे रिफाइन कर पश्चिमी देशों को बेचा। भाषा की खबर के मुताबिक, यूक्रेन पर रूस के हमले के विरोध में अमेरिका की अगुवाई में पश्चिमी देशों ने रूस से कच्चे तेल के इम्पोर्ट पर कई तरह की बंदिशें लगा दी थीं।

भारत को किफायती दरों पर रूसी कच्चा तेल मिला

खबर के मुताबिक, दिसंबर, 2022 में इन देशों ने रूसी कच्चे तेल के इम्पोर्ट (आयात) का कीमत दायरा भी तय कर दिया था। लेकिन रूस से दूसरे देशों में आयात किए गए कच्चे तेल को रिफाइन कर पश्चिमी देशों को निर्यात किए जाने पर किसी तरह की रोक नहीं लगाई गई थी। भारत ने बीते दो सालों में रूस से बड़े पैमाने पर कच्चे तेल का आयात किया है। सस्ती दरों पर रूसी कच्चा तेल मिलने से भारत को अपना आयात बिल भी कम करने में मदद मिली है।

इन देशों को भारत कर रहा एक्सपोर्ट

फिनलैंड स्थित रिसर्च सेंटर ‘सेंटर फॉर रिसर्च ऑन एनर्जी एंड क्लीन एयर’ (सीआरईए) ने एक रिपोर्ट में कहा है कि भारत रूस से आयातित कच्चे तेल को शोधित कर जी-7 के देशों और यूरोपीय संघ और ऑस्ट्रेलिया को निर्यात कर रहा है। सीईआरए ने कहा कि तेल मूल्य की सीमा लगने के बाद के 13 माह में रूसी कच्चे तेल से शोधित पेट्रोलियम उत्पादों के भारतीय निर्यात में इन देशों का हिस्सा एक-तिहाई रहा है। इन देशों को भारत ने 6.65 अरब डॉलर का निर्यात रूसी तेल की मदद से किया है।

भारत ने कच्चा तेल रूस से आयात किया

रिसर्च रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि इस निर्यात में एक बड़ा हिस्सा जामनगर स्थित रिलायंस रिफाइनरी का रहा है। इस बारे में कमेंट के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज को भेजे गए ईमेल का कोई जवाब नहीं आया है। सीआरईए ने कहा कि भारत ने रूसी तेल पर प्रतिबंध लगाने वाले देशों को ये उत्पाद भेजने के लिए 3.04 अरब यूरो मूल्य का कच्चा तेल रूस से आयात किया था।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement