Monday, June 17, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. RBI के ये 3 नए फैसले फिनटेक सेक्टर को लगाएंगे पंख, जानें क्या होगा फायदा

RBI के ये 3 नए फैसले फिनटेक सेक्टर को लगाएंगे पंख, जानें क्या होगा फायदा

वित्तीय सुविधाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने में मदद मिलेगी और ग्राहकों की संतुष्टि भी बढ़ेगी। फिनटेक फर्म, डेटा आधारित इनसाइट्स, संचालन में कार्यकुशलता लाने के साथ ग्राहकों को अधिक व्यक्तिगत और कुशल अनुभव प्रदान कर सकती है।

Edited By: Sourabha Suman @sourabhasuman
Updated on: May 29, 2024 15:33 IST
रिपॉजिटरी आने का सीधा फायदा ग्राहकों को मिलेगा।- India TV Paisa
Photo:FILE रिपॉजिटरी आने का सीधा फायदा ग्राहकों को मिलेगा।

भारतीय रिजर्व बैंक के हाल के कुछ ताजा फैसले फाइनेंशियल टेक्नोलॉजी (फिनटेक) सेक्टर के लिए आने वाले समय में बड़ी मददगार साबित होने वाले हैं। यह बात फिनटेक इंडस्ट्री के दिग्गजों ने बुधवार को यह बात कही। IANS की खबर के मुताबिक, भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने हाल ही में प्रवाह पोर्टल, रिटेल डायरेक्ट मोबाइल ऐप और फिनटेक रिपॉजिटरी की शुरुआत की है। फिनटेक इंडस्ट्री का कहना है कि इन शुरुआत से देश के फिनटेक सेक्टर को बूस्ट मिलेगा।

रिपॉजिटरी का सीधा फायदा ग्राहकों को

खबर के मुताबिक, रिपॉजिटरी सभी फिनटेक संस्थाओं को अपने तकनीकी कार्यान्वयन और गतिविधियों को दस्तावेज करने और साझा करने के लिए एक केंद्रीकृत मंच प्रदान करेगी, जिससे उद्योग के भीतर अधिक पारदर्शिता आएगी और विश्वास को भी बढ़ावा मिलेगा। रिपॉजिटरी आने का सीधा फायदा ग्राहकों को मिलेगा। इससे पारदर्शिता और विश्वास बढ़ेगा। एडंवास एआई और एमएल के इस्तेमाल होने से यह काफी सुरक्षित हो गया है। इसकी मदद से व्यक्तिगत और किफायती वित्तीय सॉल्यूशंस उपलब्ध कराना आसान हो जाएगा। साथ ही वित्तीय सुविधाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने में मदद मिलेगी और ग्राहकों की संतुष्टि भी बढ़ेगी।

इंडस्ट्री की ग्रोथ में आएगी तेजी

फाइब के मुख्य तकनीकी अधिकारी (सीटीओ), अनिल सिन्हा ने कहा कि रिपॉजिटरी में एडवांस एआई और एमएल जैसी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है। इसकी मदद से फिनटेक फर्म, डेटा आधारित इनसाइट्स, संचालन में कार्यकुशलता लाने के साथ ग्राहकों को अधिक व्यक्तिगत और कुशल अनुभव प्रदान कर सकती है। इससे प्रतिस्पर्धात्मकता बढ़ेगी और इंडस्ट्री की ग्रोथ में सहायता मिलेगी।

सरकारी प्रतिभूतियों में निवेश होगा आसान

प्रवाह पोर्टल के आने से कोई भी संस्था या व्यक्ति आसानी से नियामकों की मंजूरी के लिए अप्लाई कर सकता है। रिटेल डायरेक्ट मोबाइल ऐप के माध्यम से रिटेल निवेशकों को आसानी से आरबीआई के रिटेल डायरेक्ट पोर्टल का एक्सेस मिलेगा। इससे आसानी से सरकारी प्रतिभूतियों में निवेश किया जा सकता है। साइनजी के सह-संस्थापक और सीईओ, अंकित रतन ने कहा कि आरबीआई द्वारा उठाए गए कदम भारत के वित्तीय क्षेत्र के लक्ष्य के लिए काफी अच्छे हैं। रतन ने कहा कि आरबीआई द्वारा फिनटेक और नियामक की साझेदारी को बढ़ाना काफी अच्छा है। सभी फिनटेक रिपॉजिटरी की सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं। इससे इनोवेशन को बढ़ावा मिलेगा और सुरक्षा भी मजबूत होगी।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement