1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. शेयर बाजार बंद: घरेलू, वैश्विक मोर्चे पर संकेतकों के अभाव में सेंसेक्स, निफ्टी स्थिर

शेयर बाजार बंद: घरेलू, वैश्विक मोर्चे पर संकेतकों के अभाव में सेंसेक्स, निफ्टी स्थिर

घरेलू के अलावा वैश्विक मोर्चे पर संकेतकों के अभाव में सोमवार को शेयर बाजार स्थिर रुख के साथ बंद हुए।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: December 30, 2019 18:24 IST
Sensex, Nifty, Share Market, Stock Market- India TV Paisa

वैश्विक मोर्चे पर संकेतकों के अभाव में सेंसेक्स, निफ्टी स्थिर।

मुंबई। घरेलू के अलावा वैश्विक मोर्चे पर संकेतकों के अभाव में सोमवार को उतारर-चढ़ाव भरे कारोबार में शेयर बाजार स्थिर रुख के साथ बंद हुए। साल की समाप्ति से पहले छुट्टियों के बीच निवेशक बाजार में अधिक गतिविधियां नहीं कर रहे हैं। बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान करीब 260 अंक के दायरे में घट बढ़ के बाद अंत में 17.14 अंक या 0.04 प्रतिशत की गिरावट के साथ 41,558 अंक पर बंद हुआ। दिन में कारोबार के दौरान सेंसेक्स 41,714.73 अंक के उच्चस्तर तक गया। इसने 41,453.38 अंक का निचला स्तर भी छुआ। 

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 10.05 अंक या 0.08 प्रतिशत की बढ़त के साथ 12,255.85 अंक पर पहुंच गया। सेंसेक्स की कंपनियों में आईसीआईसीआई बैंक का शेयर सबसे अधिक 0.99 प्रतिशत टूटा। एसबीआई, टीसीएस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एशियन पेंट्स और एक्सिस बैंक भी नुकसान में रहे। वहीं दूसरी ओर नेस्ले इंडिया, हीरो मोटोकॉर्प, महिंद्रा एंड महिंद्रा, भारती एयरटेल और टाटा स्टील के शेयर लाभ में रहे। बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप 0.75 प्रतिशत तक के लाभ में रहे।

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, 'बाजार सीमित दायरे में रहा। ताजा संकेतकों के अभाव में निवेशक प्रभावित हुए और उन्होंने बड़े शेयरों को लेकर सतर्कता का रुख अपनाया। लेकिन मिड और स्मॉलकैप में पूंजी का प्रवाह हुआ जिससे उनका प्रदर्शन व्यापक बाजार रुख से बेहतर रहा।' विश्लेषकों ने कहा कि बाजार में घरेलू मोर्चे से किसी बड़ी खबर का अभाव रहा। आगामी दिनों में निवेशकों की निगाह वाहन कंपनियों के मासिक बिक्री आंकड़ों तथा जीडीपी आंकड़ों पर रहेगी। 

अन्य एशियाई बाजारों में चीन का शंघाई, हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहे। वहीं जापान का निक्की और दक्षिण कोरिया के कॉस्पी में गिरावट आई। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार नुकसान में कारोबार कर रहे थे। अंतर बैंक विदेश विनिमय बाजार में रुपया चार पैसे की बढ़त के साथ 71.31 प्रति डॉलर पर बंद हुआ। ब्रेंट वायदा मामूली बढ़त के साथ 66.94 डॉलर प्रति बैरल पर था। 

रुपया चार पैसे मजबूत हो प्रति डारल 71.31 पर बंद

कच्चे तेल में निरंतर तेजी के बावजूद अन्य प्रमुख मुद्राओं के समक्ष अमेरिकी डॉलर की कमजोरी के बीच उसके मुकाबले रुपए की विनिमय दर सोमवार को अमेरिकी डालर के मुकाबले चार पैसे सुधरकर 71.31 प्रति डॉलर पर बंद हुई।

बाजार विश्लेषकों ने कहा कि घरेलू शेयर बाजार में सुस्ती और कच्चे तेल की कीमतों में तेजी से रुपए की तेजी पर कुछ अंकुश लगा। अंतरबैंक विदेशी विनिमय बाजार में रुपया प्रति डालर 71.36 पर खुला। कारोबार के दौरान स्थानीय मुद्रा की विनिमय दर 71.30-71.39 के बीच घट बढ़ के बाद अंत में पिछले बंद के मुकाबले चार पैसे की तेजी के साथ 71.31 रुपए प्रति डालर पर बंद हुई। शुक्रवार को रुपये-डॉलर दर 71.35 पर बंद हुई थी।

Write a comment