Sunday, February 25, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बाजार
  4. सरकार इरकॉन में 8% हिस्सेदारी बेचेगी, जानें ओएफएस के जरिये बिक्री की प्रति शेयर न्यूनतम कीमत

सरकार इरकॉन में 8% हिस्सेदारी बेचेगी, जानें ओएफएस के जरिये बिक्री की प्रति शेयर न्यूनतम कीमत

सरकार के पास इंजीनियरिंग और निर्माण कंपनी IRCON में 73.18 प्रतिशत की हिस्सेदारी है, और 8% हिस्सेदारी की बिक्री से सरकार को लगभग 11.59 अरब रुपये ($139.11 मिलियन) जुटाने में मदद मिलेगी।

Sourabha Suman Edited By: Sourabha Suman @sourabhasuman
Updated on: December 06, 2023 22:38 IST
केवल गैर-खुदरा निवेशक ही 7 दिसंबर यानी टी डे पर अपनी बोली लगा सकेंगे। - India TV Paisa
Photo:FILE केवल गैर-खुदरा निवेशक ही 7 दिसंबर यानी टी डे पर अपनी बोली लगा सकेंगे।

इंजीनियरिंग और निर्माण कंपनी इरकॉन ने बुधवार को स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग में बताया है कि सरकार बिक्री पेशकश के जरिये इरकॉन में 8% हिस्सेदारी बेचेगी।  कंपनी ने ओएफएस के तहत न्यूनतम कीमत ₹154/शेयर तय किया है। योजना के मुताबिक सरकार कंपनी के 4 फीसदी शेयर बेचेगी। इसके अलावा, अगर ऑफर ओवरसब्सक्राइब हुआ तो अतिरिक्त 4% बेचा जाएगा। खबर के मुताबिक, निर्धारित न्यूनतम मूल्य बुधवार को स्टॉक के समापन मूल्य से लगभग 10.5% की छूट के साथ है। लाइवमिंट की खबर के मुताबिक, सरकार के पास IRCON में 73.18% हिस्सेदारी है, और 8% हिस्सेदारी की बिक्री से सरकार को लगभग 11.59 बिलियन रुपये ($139.11 मिलियन) जुटाने में मदद मिलेगी।

ओएफएस के तहत बिक्री की टाइमिंग

खबर के मुताबिक, अब तक, केंद्रीय सरकार ने 2023/24 में सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों में शेयर बेचकर 88.59 बिलियन रुपये इकट्ठा किए हैं, जबकि लक्ष्य 510 बिलियन रुपये है। इरकॉन ओएफएस: समापन और उद्घाटन तिथि

यह ऑफर टी+1 अवधि के तहत स्टॉक एक्सचेंजों की एक अलग विंडो पर होगा। लाइवमिंट की खबर के मुताबिक, ओएफएस 7 दिसंबर, 2023 (टी डे) को सुबह 9:15 बजे से दोपहर 3:30 बजे के बीच होगा। यही क्रम अगले दिन भी इसी दौरान जारी रहेगा। केवल गैर-खुदरा निवेशक ही 7 दिसंबर यानी टी डे पर अपनी बोली लगा सकेंगे।

बोली लगाने से जुड़ी जरूरी बातें

स्टॉक फाइलिंग में कंपनी ने कहा कि निवेशक अपनी बोलियां लगाते समय, गैर-खुदरा निवेशक खुदरा कैटेगरी के अनसब्सक्राइब्ड हिस्से में अलॉटमेंट के लिए टी+एल डे तक अपनी अनअलॉटेड बोलियों को आगे बढ़ाने की इच्छा का संकेत दे सकते हैं। यहां यह भी बता दें कि वैसे गैर-खुदरा निवेशक जिन्होंने 7 दिसंबर को अपनी बोलियां लगाई हैं और अपनी गैर-आवंटित बोलियों को 8 दिसंबर (टी+एल दिवस) तक आगे बढ़ाने का विकल्प चुना है, उन्हें खुदरा श्रेणी की सदस्यता रहित हिस्से में आवंटन के लिए आगे बढ़ने की अनुमति दी जाएगी।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Market News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement