Wednesday, June 19, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. मेरा पैसा
  4. Home Loan का अप्रूवल चाहते हैं झटपट! आज से ही करें ये काम, ये डॉक्यूमेंट्स जरूर रखें रेडी

Home Loan का अप्रूवल चाहते हैं झटपट! आज से ही करें ये काम, ये डॉक्यूमेंट्स जरूर रखें रेडी

आपकी वित्तीय स्थिरता और रीपेमेंट क्षमता को वेरिफाई करने के लिए बैंक को आपके अलग-अलग डॉक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ती है। इन डॉक्यूमेंट्स को सावधानीपूर्वक व्यवस्थित और आसानी से उपलब्ध होने से स्वीकृति प्रक्रिया में तेज़ी आ सकती है।

Written By: Sourabha Suman @sourabhasuman
Updated on: May 16, 2024 12:44 IST
होम लोन में 750 से ऊपर का क्रेडिट स्कोर या सिबिल स्कोर मायने रखता है। - India TV Paisa
Photo:FILE होम लोन में 750 से ऊपर का क्रेडिट स्कोर या सिबिल स्कोर मायने रखता है।

एक घर हो अपना, ज्यादातर लोग देखते हैं इसके लिए सपना। घर का मालिक होना एक ऐसा सपना है जिसे पूरा करने के लिए कई बार होम लोन भी लेना पड़ता है। लेकिन होम लोन के लिए अप्लाई करने के बाद इसका अप्रूवल भी एक जटिल प्रक्रिया है। होम लोन को तुरंत स्वीकृत यानी अप्रूवल कराना कई बार बहुत आसान नहीं होता। अगर आप भी घर खरीदने की प्लानिंग कर रहे हैं तो आपको होम लोन अप्लाई करने के लिए अभी से कुछ खास बातों पर गौर करना चाहिए, ताकि आपके होम लोन को अप्रूव होने में कोई रुकावट या देरी न हो सके।  

अभी से करेंगे ये काम तो झटपट अप्रूव हो जाएगा होम लोन

एक अच्छा क्रेडिट स्कोर करें मेंटेन

होम लोन में 750 से ऊपर का क्रेडिट स्कोर या सिबिल स्कोर मायने रखता है। इससे आपके लिए लोन मिलने की राह आसान हो जाती है। सिबिल स्कोर का बैंक या दूसरी कंपनी इंस्टैंट होम लोन के लिए आपकी पात्रता का मूल्यांकन करते समय ध्यान में रखते हैं। एक हाई क्रेडिट स्कोर आपके जिम्मेदार वित्तीय व्यवहार को दर्शाता है और आपकी स्वीकृति की संभावनाओं को बढ़ाता है। संभावना को और मजबूत करने के लिए समय पर बिलों का भुगतान करें। अगर पहले से कोई लोन चल रहा है तो उसे चुकाएं। अपनी क्रेडिट रिपोर्ट में त्रुटि ठीक करें।

अपने वित्तीय दस्तावेज़ों को व्यवस्थित करें

यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया के मुताबिक, वित्तीय स्थिरता और रीपेमेंट क्षमता को वेरिफाई करने के लिए अलग-अलग डॉक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ती है। इनमें इनकम प्रूफ, पहचान और पते का प्रमाण, बैंक स्टेटमेंट और टैक्स रिटर्न शामिल हो सकते हैं। इन डॉक्यूमेंट्स को सावधानीपूर्वक व्यवस्थित और आसानी से उपलब्ध होने से स्वीकृति प्रक्रिया में तेज़ी आ सकती है।

ये डॉक्यूमेंट रखें तैयार

पहचान का प्रमाण - पासपोर्ट, आधार कार्ड, पैन कार्ड, आदि।

पते का प्रमाण - यूटिलिटी बिल, रेंटल एग्रीमेंट, मतदाता पहचान पत्र, आदि।
आय प्रमाण - सैलरी स्लिप, इनकम टैक्स रिटर्न, फॉर्म 16, आदि।
प्रॉपर्टी के दस्तावेज - सेल डीड, टाइटल डीड, प्रॉपर्टी टैक्स रसीदें, आदि।

प्री-अप्रूवल और प्री-क्वालिफिकेशन

आप चाहें तो प्री-अप्रूवल होम लोन के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं। प्री-अप्रूवल आपको उस लोन राशि का अनुमान प्रदान करता है जिसके लिए आप पात्र हैं। यह विक्रेता को आपकी गंभीरता दिखाता है और खरीद प्रक्रिया को सुव्यवस्थित करता है। अगर आपको जरूरी लगे तो आप होम लोन विशेषज्ञ से सलाह ले सकते हैं।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Personal Finance News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement