Monday, June 24, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. मेरा पैसा
  4. ज्वाइंट होम लोन लेने की है तैयारी! अप्लाई करने से पहले जान लें ये जरूरी बातें, आपके लिए होगी आसानी

ज्वाइंट होम लोन लेने की है तैयारी! अप्लाई करने से पहले जान लें ये जरूरी बातें, आपके लिए होगी आसानी

ज्वाइंट होम लोन लेना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। हां, इसके लिए अप्लाई करने से पहले की बातों पर गौर करना जरूरी है। होम लोन का समय पर पुनर्भुगतान सभी सह-आवेदकों की सामूहिक और व्यक्तिगत जिम्मेदारी है।

Written By: Sourabha Suman @sourabhasuman
Updated on: May 10, 2024 13:47 IST
दोनों अप्लाई करने वालों को उस संपत्ति में सह-मालिक होना चाहिए जिसके लिए लोन चाहिए।- India TV Paisa
Photo:FILE दोनों अप्लाई करने वालों को उस संपत्ति में सह-मालिक होना चाहिए जिसके लिए लोन चाहिए।

ज्वाइंट होम लोन परिवार के दो या दो से अधिक सदस्यों द्वारा लिया जाता है, जिसमें हर अप्लाई करने वाला मेंबर इस लोन के भुगतान के लिए समान जिम्मेदारियां निभाता है। संयुक्त रूप से लिया गया होम लोन किसी परिवार की वित्तीय स्थिति पर दबाव डाले बिना उनकी बचत बढ़ाने में मददगार हो सकता है। होम लोन को दोनों व्यक्तियों के बीच बांटना फायदेमंद हो सकता है। आईसीआईसीआई बैंक के मुताबिक, सिर्फ निकटतम परिवार के सदस्यों, जैसे पति-पत्नी, माता-पिता, बच्चे और भाई-बहन को संयुक्त रूप से होम लोन के लिए अप्लाई करने की परमिशन होती है।

ज्वाइंट लोन लेने की कुछ होती हैं शर्तें

निकटतम परिवार के सदस्यों के ज्वाइंट होम लोन में होने के अलावा, हर एप्लीकेंट के पास सैलरी या कारोबार के रूप में इनकम का एक स्वतंत्र सोर्स होना चाहिए। सबसे महत्वपूर्ण यह है कि दोनों अप्लाई करने वालों को उस संपत्ति में सह-मालिक होना चाहिए जिसके लिए लोन की बैंक से डिमांड की जा रही है। बैंक जब ज्वाइंट होम लोन के कैलकुलेशन के समय बड़ी उम्र वाले आवेदक की रिटायरमेंट की उम्र पर भी विचार करते हैं।

इन बातों का ज्वाइंट होम लोन में जरूर ध्यान रखें

सारे डॉक्यूमेंट्स मौजूद हैं या नहीं

जब भी आप ज्वाइंट होम लोन के लिए अप्लाई करने जा रहे हैं तो पहले यह सुनिश्चित करें कि दोनों को-एप्लीकेंट्स के सभी डॉक्यूमेंट्स जैसे केवाईसी, इनकम सर्टिफिकेट इत्यादि, संपत्ति दस्तावेजों के साथ क्रम में लगे हैं या नहीं। ऐसा नहीं होने पर आप परेशान हो सकते हैं।

होम लोन की राशि सोच-समझकर तय करें

जब आप लोन के लिए अप्लाई कर रहे हैं तो होम लोन अमाउंट को लेकर आपकी समझ क्लियर होनी चाहिए। आप किसी भी प्रतिष्ठित बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट पर जा सकते हैं, और  जरूरी राशि को कैलकुलेट करने के लिए वहां उपलब्ध मुफ्त ऑनलाइन होम लोन कैलकुलेटर का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपको ईएमआई और घर के बजट का हिसाब का आइडिया समझ आ जाएगा। जानकारों का मानना है कि होम लोन जितना संभव हो सके, कम अमाउंट में लें तो ब्याज का बोझ कम रहेगा।

दोनों आवेदन करने वाले का सिबिल स्कोर

जब भी आप ज्वाइंट होम लोन के लिए अप्लाई करेंगे तो बैंक आप दोनों की साख निर्धारित करने के लिए आपके CIBIL स्कोर की जांच करेंगे। यानी अगर एक आवेदक के पास क्रेडिट कम है, तो यह पूरे लोन एप्लीकेशन को प्रभावित कर सकता है। ऐसे में अप्लाई करने से पहले अपना सिबिल स्कोर जरूर ठीक कर लें। यानी अगर आप अपने जीवनसाथी के साथ संयुक्त रूप से होम लोन के लिए आवेदन कर रहे हैं, तो आपको पहले यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आप दोनों का क्रेडिट स्कोर अच्छा हो।

लोन का रीपेमेंट में भी दोनों आवेदकों की जिम्मेदारी

आईसीआईसीआई बैंक के मुताबिक, होम लोन का समय पर पुनर्भुगतान  सभी सह-आवेदकों की सामूहिक और व्यक्तिगत जिम्मेदारी है। रीपेमेंट या पुनर्भुगतान एक संयुक्त बैंक खाते के माध्यम से सिंगल एकीकृत ईएमआई भुगतान के जरिये किया जा सकता है। ज्वाइंट इनकम के कारण संयुक्त उधारकर्ता आमतौर पर व्यक्तिगत आवेदकों की तुलना में अधिक लोन राशि का लाभ उठा सकते हैं। वैसे वित्तीय तनाव से बचने के लिए अपनी पुनर्भुगतान क्षमता के भीतर जिम्मेदारी से उधार लेना महत्वपूर्ण है।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Personal Finance News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement