1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. अनिल अंबानी की कंपनी RCF की समाधान योजना को मिली मंजूरी, ऑथम इनवेस्‍टमेंट 1600 करोड़ रुपये में करेगी अधिग्रहण

अनिल अंबानी की कंपनी RCF की समाधान योजना को मिली मंजूरी, ऑथम इनवेस्‍टमेंट 1600 करोड़ रुपये में करेगी अधिग्रहण

रिलायंस ग्रुप की यह दूसरी कंपनी है, जिसके लिए ऑथम विजेता के रूप में सामने आई है। पिछले महीने रिलायंस होम फाइनेंस के अधिग्रहण के लिए ऑथम के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की थी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: July 19, 2021 15:44 IST
Anil Ambani’s RCF lenders approve resolution plan with Authum - India TV Paisa
Photo:PTI FILE PHOTO

Anil Ambani’s RCF lenders approve resolution plan with Authum

नई दिल्‍ली। रिलायंस कमर्शियल फाइनेंस (RCF) के ऋणदाताओं ने कंपनी की समाधान योजना को मंजूरी दे दी है और ऑथम इंवेस्टमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (Authum Investment) को सफल बोलीदाता के रूप में चुना है। रिलायंस कैपिटल (Reliance Capital) ने सोमवार को यह जानकारी दी। ऑथम द्वारा लगभग 1,600 करोड़ रुपये में आरसीएफ का अधिग्रहण करने की उम्मीद है।

आरसीएफ कर्ज में डूबे अनिल अंबानी द्वारा प्रवर्तित रिलायंस समूह की कंपनी रिलायंस कैपिटल लिमिटेड के पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है। रिलायंस कैपिटल ने शेयर बाजार को बताया कि ऋणदाताओं ने एक प्रतिस्पर्धी प्रक्रिया के तहत ऑथम इनवेस्टमेंट को कंपनी के अधिग्रहण के लिए सफल बोलीदाता के रूप में चुना। इस प्रक्रिया को ऋणदाताओं और बोलीदाताओं के बीच कई दौर की वार्ता के बाद पूरा किया गया। 

रिलायंस कैपिटल ने नियामकीय जानकारी में कहा कि आरबीआई के प्रूडेंशियल फ्रेमवर्क फॉर रेजोल्‍यूशन ऑफ स्‍ट्रेस्‍ड असेट्स के तहत इंटर-क्रेडिटर एग्रीमेंट के हिस्‍से के रूप में ऋणदाताओं द्वारा मंजूर की गई समाधान योजना पर आरसीएफ के बोर्ड ऑफ डायरेक्‍टर्स विचार कर रहे हैं।

लीड बैंक बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ आईसीए ऋणदाताओं को 18 बोलीदाताओं से प्रारंभिक अभिरुचि पत्र प्राप्‍त हुए थे, जिसमें से 4 बोलियां का अंतिमरूप से चयन किया गया और फ‍िर अंतिम सफल बोलीदाता का चयन किया गया।

रिलायंस कैपिटल ने कहा कि ऑथम के ऋण समाधान योजना को आरबीआई के प्रूडेंशियल फ्रेमवर्क फॉर रेजोल्‍यूशन ऑफ स्‍ट्रेस्‍ड असेट के तहत मंजूरी प्रदान की गई है। सफल बोलीदाता के समाधान योजना को लागू करना गैर-आईसीए ऋणदाताओं, नियामकीय प्राधिकरणों और शेयरधारकों की मंजूरी पर निर्भर होगा।  

रिलायंस ग्रुप की यह दूसरी कंपनी है, जिसके लिए ऑथम विजेता के रूप में सामने आई है। पिछले महीने, बैंक ऑफ बड़ौदा के नेतृत्‍व वाले ऋणदाताओं के एक समूह ने समाधान प्रक्रिया के तहत रिलायंस होम फाइनेंस के अधिग्रहण के लिए ऑथम के प्रस्‍ताव को मंजूरी प्रदान की थी। ऑथम एक घरेलू एनबीएफसी कंपनी है, जो पिछले 15 सालों से परिचालन कर रही है। इसके पास 2400 करोड़ रुपये की संपत्ति है। रिलायंस कैपिटल फाइनेंस के समाधान के परिणामस्‍वरूप रिलायंस कैपिटल के ऋण में 9,000 रुपये की कमी आएगी।  

यह भी पढ़ें: सिंगूर में टाटा नैनो प्रोजेक्‍ट की नाकामी भूला Tata Group, 13 साल बाद की फ‍िर तैयारी

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार का नया कदम, मोटर वाहनों के रजिस्‍ट्रेशन के लिए बनाई नई प्रक्रिया

यह भी पढ़ें: BSNL का घाटा हुआ कम, ईद से पहले पेश किया धासूं प्‍लान 21 जुलाई से मिलेगा अनलिमिटेड डाटा

यह भी पढ़ें:  भारत सरकार के प्रयासों का दिखा असर, अगले महीने से ईंधन की कीमतों पर पड़ सकता है असर

Write a comment
Click Mania
bigg boss 15