1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Licious ने सीरीज जी राउंड में जुटाये 387 करोड़ रुपये, हासिल किया यूनिकॉर्न का दर्जा

Licious ने सीरीज जी राउंड में जुटाये 387 करोड़ रुपये, हासिल किया यूनिकॉर्न का दर्जा

कंपनी ने बताया कि लिशियस प्रत्येक माह दस लाख ऑर्डर को पूरा कर रही है और इसमें 90 प्रतिशत से अधिक ऑर्डर सभी बाजारों में रिपीट ऑर्डर हैं।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: October 05, 2021 15:21 IST
Licious raises Rs 387 crore in Series G round- India TV Paisa
Photo:LICIOUS

Licious raises Rs 387 crore in Series G round

नई दिल्‍ली। टेक स्‍टार्टअप लिशियस (Licious), जो ताजा मांस और सीफूड की बिक्री करती है, ने मंगलवार को कहा कि उसने आईआईएफएल एएमसी सहित निवेशकों से लगभग 387 करोड़ रुपये (5.2 करोड़ डॉलर) का निवेश जुटाया है। कंपनी ने कहा कि उसने यह ताजा निवेश एक अरब डॉलर के मूल्‍याकंन के आधार पर हासिल किया है और उसने यूनिकॉर्न का दर्जा हासिल कर लिया है। बेंगलुरु स्थित लिशियस ने एक बयान में कहा कि आईआईएफएल एएमसी के नेतत्‍व में सीरीज जी राउंड में 5.2 करोड़ डॉलर का फंड जुटाने के साथ वह भारत की पहली डायरेक्‍ट-टू-कंज्‍यूमर (डी2सी) यूनिकॉर्न बन गई है।

कारोबार की भाषा में यूनिकॉर्न एक ऐसी निजी स्टार्टअप कंपनी को कहते है जिसका मूल्य एक अरब डॉलर को पार कर जाता है। कंपनी ने कहा कि उसने आईआईएफएल एएमसी के लेट स्टेज टेक फंड के नेतृत्व में 5.2 करोड़ डॉलर का वित्त हासिल करने के बाद एक अरब डॉलर का बाजार मूल्यांकन हासिल किया है। इससे पहले जुलाई में, लिशियस ने निवेश के सीरीज एफ दौर में टेमासेक सहित कई निवेशकों से 19.2 करोड़ डॉलर जुटाए थे।

कंपनी के सह-संस्थापक विवेक गुप्ता और अभय हंजूरा ने कहा कि भले ही डी2सी क्षेत्र के लिए वित्त पोषण में काफी वृद्धि हुई है, एफएमसीजी को अब भी सबसे आकर्षक श्रेणी नहीं माना जाता है। हम उम्मीद करते हैं कि लिशियस के यूनिकॉर्न का दर्जा हासिल करने के बाद स्थिति बदल जाएगी। उन्‍होंने कहा कि ताजा मांस और सीफूड सेक्‍टर की अभी भी बहुत कम लोगों तक पहुंच है और असंगठित है। इस क्षेत्र में 40 अरब डॉलर की अपार संभावनाएं मौजूद हैं।

कंपनी ने कहा कि वह आपूर्ति श्रृंखला उत्‍कृष्‍टता, प्रोडक्‍ट इन्‍नोवेशन, टैलेंट और वेंडर पार्टनर अपग्रेड्स के लिए टेक्‍नोलॉजी में निवेश करने के माध्‍यम से कैटेगरी का निर्माण करना जारी रखेगी। लिशियस ने कहा कि केवल पांच सालों में उसने 300 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है और बेंगलुरु, हैदराबाद, एनसीआर, चंडीगढ़, मुंबई, पुणे, चेन्‍नई, जयपुर, कोयम्‍बटूर, कोचि, पुदुचेरी, विजाग, विजयवाड़ा और कोलकाता में 30 लाख से अधिक पैक की आपूर्ति की है।  

कंपनी ने बताया कि लिशियस प्रत्‍येक माह दस लाख ऑर्डर को पूरा कर रही है और इसमें 90 प्रतिशत से अधिक ऑर्डर सभी बाजारों में रिपीट ऑर्डर हैं। लिशियस के पास वर्तमान में 3500 कर्मचारी हैं। 

यह भी पढ़ें: सड़क दुर्घटना में घायल की जान बचाने पर अब मिलेगा इतना बड़ा इनाम, सड़क मंत्रालय ने शुरू की 'गुड स्‍मार्टियन' योजना

यह भी पढ़ें: बिल्‍डर्स की मनमानी पर लगेगी रोक, सुप्रीम कोर्ट ने मॉडल बिल्‍डर-बायर एग्रीमेंट पर दिया ये निर्देश

यह भी पढ़ें: Supertech के 40 मंजिला ट्विन टॉवर्स पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया आज ये आदेश...

यह भी पढ़ें: Tata Motors ने पेश की माइक्रो SUV Punch, 21 हजार रुपये में शुरू हुई बुकिंग

 

Write a comment
bigg boss 15