1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. व्यापार गतिविधियां महामारी पूर्व स्तर के 76 प्रतिशत पर पहुंची, जीडीपी पर नहीं पड़ेगा प्रभाव: रिपोर्ट

व्यापार गतिविधियां महामारी पूर्व स्तर के 76 प्रतिशत पर पहुंची, जीडीपी पर नहीं पड़ेगा प्रभाव: रिपोर्ट

नोमुरा ने 2021 के लिये वृद्धि दर के अनुमान को 11.5 प्रतिशत पर बरकरार रखा है। हालांकि मौजूदा कोविड लहर से अप्रैल जून तिमाही पर असर की संभावना दी है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 27, 2021 21:50 IST
सीमित लॉकडाउन का...- India TV Paisa
Photo:PTI

सीमित लॉकडाउन का जीडीपी पर खास असर नहीं: नोमुरा

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम के लिये विभिन्न राज्यों में लगाये जा रहे ‘लॉकडाउन’ के कारण व्यापार गतिविधियां कोविड पूर्व स्थिति के मुकाबले करीब एक चौथाई कम हो गयी हैं। जापान की ब्रोकरेज कंपनी नोमुरा ने मंगलवार को यह कहा। हालांकि, उसने कहा कि गतिविधियों में कमी का आर्थिक प्रभाव न के बराबर होगा और इस साल के लिये वृद्धि अनुमान को बरकरार रखा है। उसने यह भी कहा कि ‘लॉकडाउन’ के कारण इसके नीचे जाने का जोखिम जरूर है। 

ब्रोकरेज कंपनी के अनुसार 25 अप्रैल की स्थिति के अनुसार नोमुरा इंडिया बिजनेस रिजम्पशन इंडेक्स (एनआईआरआई) में पूरे साल के मुकाबले सर्वाधिक 8.5 प्रतिशत की सप्ताहिक गिरावट दर्ज की गयी और यह 75.9 रहा। महामारी पूर्व सामान्य दिनों से यह 24 प्रतिशत अंक कम है। नोमुरा ने कहा कि ‘लॉकडाउन’ से आवाजाही पर उल्लेखनीय असर पड़ा है और इस बात के संकेत है कि इसका प्रभाव बिजली मांग, जीएसटी-ईवे बिल, रेल माल ढुलाई जैसे कारकों के रूप में अर्थव्यवस्था के वृहत भाग पर है। हालांकि, पहली लहर के मुकाबले प्रभाव अभी भी बहुत कम है। उदाहरण के लिये श्रमिक बल भागीदारी दर अभी भी मजबूत बनी हुई है। लेकिन अगर और राज्य पाबंदियां बढ़ाते हैं तो गति अगले महीने कमजोर बनी रह सकती है। इससे अप्रैल-जून तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर प्रभावित हो सकती है। 

नोमुरा के अनुसार, ‘‘आर्थिक प्रभाव न के बराबर होने का कारण है। अन्य देशों का अनुभव बताता है कि आवाजाही प्रभावित होने और वृद्धि के बीच संबंध बहुत ज्यादा नहीं है। विनिर्माण, कृषि या घर से काम तथा ऑनलाइन सेवाएं जैसे अर्थव्यवस्था के हिस्से मजबूत बने रहने चाहिए।’’ ब्रोकरेज कंपनी ने इसके आधार पर 2021 के लिये वृद्धि दर के अनुमान को 11.5 प्रतिशत पर बरकरार रखा है।

Write a comment
X