1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. पाकिस्‍तान सरकार बेचेगी अनुपयोगी कीमती सरकारी संपत्ति, दुबई एक्‍सपो में की जाएगी प्रदर्शित

पाकिस्‍तान सरकार बेचेगी अनुपयोगी कीमती सरकारी संपत्ति, दुबई एक्‍सपो में की जाएगी प्रदर्शित

खान ने चेतावनी दी कि गैर-उपयोग की गई सरकारी स्वामित्व वाली संपत्तियों की पहचान में बाधा उत्पन्न करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: December 06, 2019 15:36 IST
Pak govt to sell unused state properties at Dubai Expo- India TV Paisa
Photo:PAK GOVT TO SELL UNUSED S

Pak govt to sell unused state properties at Dubai Expo

इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तान सरकार ने विदेशी और पाकिस्‍तानी निवेशकों को आकर्षित करने के लिए दुबई एक्‍सपो में अपनी कीमती अनुपयोगी सरकारी संपत्तियों को बेचने का निर्णय किया है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि सरकारी कल्याणकारी परियोजनाओं पर धन के बेहतर उपयोग के लिए कीमती सरकारी संपत्ति बेची जाएगी।

संपत्ति को बेचने से प्राप्‍त होने वाले धन को शिक्षा, स्‍वास्‍थ्‍य, खाद्य और आवास से जुड़ी सार्वजनिक कल्‍याणकारी योजनाओं पर खर्च किया जाएगा। निजीकरण आयोग के सचिव रिजवान मलिक ने बताया कि इन अनुपयोगी सरकारी संपत्तियों को दुबई एक्‍सपो में प्रदर्शित किया जाएगा, ताकि विदेशी और पाकिस्‍तानी निवेशकों को इन्‍हें खरीदने के लिए आकर्षित किया जा सके।

द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार खान ने विभिन्न मंत्रालयों और संघीय विभागों के स्वामित्व वाली कई संपत्तियों के उपयोग को लेकर एक बैठक की। इस बैठक के दौरान खान ने चेतावनी दी कि गैर-उपयोग की गई सरकारी स्वामित्व वाली संपत्तियों की पहचान में बाधा उत्पन्न करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि अतीत में सरकारी संपत्तियों का प्रभावी तरीके से इस्तेमाल न करने से आपराधिक लापरवाही सामने आई है। खान ने संपत्ति प्रबंधन समिति, संबंधित संघीय मंत्रालयों और प्रांतीय सरकारों को एक सप्ताह के अंदर इस तरह की संपत्ति की पहचान करने के निर्देश जारी किए, ताकि उनके उचित उपयोग पर निर्णय लागू किया जा सके।

निजीकरण आयोग के सचिव रिजवान मलिक ने कहा कि संघीय कैबिनेट के फैसलों के तहत, फरवरी से मार्च के महीनों के दौरान प्रत्येक मंत्रालय को कम से कम तीन ऐसी संपत्तियों की पहचान करने का काम सौंपा गया है। पहले चरण में विभिन्न मंत्रालयों ने अब तक 32 ऐसी संपत्तियों की पहचान की है।

Write a comment
bigg-boss-13