ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Pfizer ने शुरू किया बच्‍चों के लिए COVID-19 vaccine का ट्रायल, 12 वर्ष से कम उम्र वालों को भी लगेगा टीका

Pfizer ने शुरू किया बच्‍चों के लिए COVID-19 vaccine का ट्रायल, 12 वर्ष से कम उम्र वालों को भी लगेगा टीका

यूएस सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के डाटा के मुताबिक, बुधवार सुबह तक अमेरिका में लगभग 6.6 करोड़ लोगों को कोविड-19 टीका लग चुका है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: March 26, 2021 12:34 IST
Pfizer, BioNTech launch COVID-19 vaccine trial in kids under 12- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

Pfizer, BioNTech launch COVID-19 vaccine trial in kids under 12

नई दिल्‍ली। अमेरिका की फार्मा कंपनी फाइजर (Pfizer) और उसके जर्मन पार्टनर बायोएनटेक एसई (BioNTech SE) ने 12 साल से कम उम्र के बच्‍चों के लिए अपने कोविड-19 वैक्‍सीन (COVID-19 vaccine) का ट्रायल शुरू कर दिया है। अमेरिकी कंपनी ने गुरुवार को उम्‍मीद जताई कि वह 2022 की शुरुआत में बच्‍चों के लिए कोरोना वायरस टीका बाजार में पेश करने में सफल होगी। फाइजर के प्रवक्‍ता शैरोन कैस्टिलो (Sharon Castillo) ने बताया कि बुधवार को वॉलेंटियर्स के पहले बैच को शुरुआती ट्रायल के तहत पहला इंजेक्‍शन दिया गया।

फाइजर और बायोएनटेक के वैक्‍सीन को 16 साल और इससे कम उम्र के बच्‍चों पर ट्रायल के लिए यूएस रेगूलेटर्स ने पिछले साल दिसंबर में अपनी मंजूरी प्रदान की थी। यूएस सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के डाटा के मुताबिक, बुधवार सुबह तक अमेरिका में लगभग 6.6 करोड़ लोगों को कोविड-19 टीका लग चुका है।  

मॉडेर्ना इंक (Moderna Inc) ने भी पिछले हफ्ते बच्‍चों के लिए अपने कोविड-19 वैक्‍सीन का ट्रायल शुरू किया है। इसमें 6 माह से लेकर 16 वर्ष की उम्र तक के बच्‍चे शामिल हैं। ठीक इसी प्रकार का ट्रायल अब फाइजर ने भी शुरू किया है।

उल्‍लेखनीय है कि अमेरिका में फाइजर-बायोएनटेक ही अकेली ऐसी कंपनी है, जिसके वैक्‍सीन को 16 और 17 साल के बच्‍चों को लगाने की मंजूरी दी गई है। Moderna की वैक्‍सनी को 18 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लोगों को लगाने की मंजूरी मिली है। इसके अलावा अभी और किसी कंपनी की वैक्‍सीन को बच्‍चों के लिए उपयोग की मंजूरी नहीं दी गई है।

फाइजर और बायोएनटेक ने तीन चरणों में होने वाले ट्रायल में भाग ले रहे 144 प्रतिभागियों को तीन अलग-अलग डोज- 10, 20 और 30 माइक्रोग्राम- में वैक्‍सीन के दो शॉट देकर शुरुआत सुरक्षा परीक्षण करने की योजना बनाई है। इसके बाद ट्रायल के अंतिम चरण में प्रतिभागियों की संख्‍या बढ़ाकर 4500 की जाएगी। कंपनी ने उम्‍मीद जताई है कि 2021 की दूसरी छमाही में इन परीक्षणों के परिणाम उपलब्‍ध होंगे।

Suez Canal में यातायात रुकने से भारतीयों को होगा नुकसान...

Samsung अगले हफ्ते भारत में लॉन्‍च करेगी अपना सस्‍ता 5G फोन Galaxy S20 FE, इतनी होगी कीमत

खुशखबरी: दूसरे दिन लगातार सस्‍ते हुए पेट्रोल-डीजल, जानिए आज का नया भाव

सरकारी कार्यालयों में होगा फोर-डे वर्क वीक...!

Good News: होली से पहले COVID-19 से जुड़ी आई अच्‍छी खबर...

Write a comment
elections-2022