1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Covid 19 के दौरान आमलोगों ने बदला शेयर खरीदने का तरीका, मोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली के जरिये बढ़ा कारोबार

Covid 19के दौरान अब कुछ इस तरह पैसा कमा रहे हैं आम भारतीय

इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से ट्रेडिंग ने पारंपरिक तरीके से किये जाने व्यापार की जगह ले ली है। नए उत्पादों और सेवाओं का उदय हुआ है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: August 14, 2021 11:23 IST
Covid 19के दौरान अब कुछ इस...- India TV Paisa
Photo:PIXABAY

Covid 19के दौरान अब कुछ इस तरह पैसा कमा रहे हैं आम भारतीय

नयी दिल्ली। कोविड-19 महामारी के दौरान शेयर बाजारों में खुदरा निवेशकों की संख्या में जबरदस्त उछाल आया है। इस दौरान मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली के जरिये शेयरों में कारोबार बढ़ा है। सेबी प्रमुख अजय त्यागी ने शुक्रवार को यह कहा। उन्होंने कोरोना महामारी के दौरान प्रतिभूति बाजारों में आये कई बदलाव के बारे में बताया। 

त्यागी ने निवेश और प्रतिभूति कानून में एलएलएम को लेकर आयोजित उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान कहा, ‘‘इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से ट्रेडिंग ने पारंपरिक तरीके से किये जाने व्यापार की जगह ले ली है। नए उत्पादों और सेवाओं का उदय हुआ है। कृत्रिम बुद्धिमत्ता और मशीन लर्निंग का उपयोग करने वाली रणनीतियाँ भी इस दौरान चलन में आईं।’’ कार्यक्रम का आयोजन नेशनल इंस्टीट्यूट आफ सियकफरिटीज मार्किट्स (एनआईएसएम) और महाराष्ट्र नेशनल ला यूनिवर्सिट(एमएनएलयू) ने किया। 

पढ़ें-  भारत के सभी बैंकों के लिए आ गई ये सिंगल एप, ICICI बैंक ने किया कमाल

पढ़ें- ATM मशीन को बिना छुए निकाल सकते हैं पैसा, इस सरकारी बैंक ने शुरू की सुविधा

उन्होंने कहा, ‘‘कोविड के दौरान हम स्थिति में और बदलाव देख सकते हैं। हम बाजार में खुदरा निवेशकों की बढ़ती संख्या देख रहे हैं। मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक के जरिये शेयर कारोबार में तेजी आई है।’’ त्यागी के अनुसार कई वर्षों से जारी इन परिवर्तनों ने यह साबित किया है कि भारतीय प्रतिभूति बाजार के लिए भारत में मौजूद कानून सबसे गतिशील कानूनों में से एक हैं। 

पढ़ें- SBI ग्राहकों के लिए बुरी खबर! बैलेंस न होने पर ट्रांजेक्शन हुआ फेल, तो लगेगा इतना 'जुर्माना'

पढ़ें- SBI ग्राहक घर बैठे बदल सकते हैं नॉमिनी का नाम, ये है तरीका

सेबी प्रमुख ने कहा कि दुनिया भर की कंपनियां अब बैंक वित्त के बजाय अपनी कॉर्पोरेट जरूरतों को पूरा करने के लिए प्रतिभूति बाजारों पर अधिक से अधिक भरोसा कर रही हैं। छात्रों को संबोधित करते हुए त्यागी ने कहा कि प्रतिभूति कानून एक अलग तरह की विविधता और गतिशीलता प्रदान करते हैं।

Write a comment
Click Mania
bigg boss 15