1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Ease of Doing बिजनेस में आंध्र प्रदेश, गुजरात और तेलंगाना ने लहराया परचम, उत्तर प्रदेश को मिला यह स्थान

Ease of Doing बिजनेस में आंध्र प्रदेश, गुजरात और तेलंगाना ने लहराया परचम, उत्तर प्रदेश को मिला यह स्थान

ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैकिंग जारी करने का उद्देश्य राज्यों के बीच व्यावसायिक माहौल को बेहतर बनाने की प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देना है।

Alok Kumar Edited By: Alok Kumar @alocksone
Updated on: June 30, 2022 13:30 IST
Ease of Doing Business - India TV Hindi
Photo:FILE

Ease of Doing Business 

Highlights

  • रैंकिंग में आंध्र प्रदेश, गुजरात और तेलंगाना सबसे सफल प्रदेशों की श्रेणी के शीर्ष सात में शामिल
  • उभरते कारोबारी परिवेश की श्रेणी में दिल्ली, पुडुचेरी और त्रिपुरा सहित 11 राज्यों को मिली जगह
  • यह रैकिंग जारी करने का उद्देश्य राज्यों के बीच व्यावसायिक माहौल को बेहतर बनाने की प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देना है

Ease of Doing बिजनेस यानी व्यापार सुधार कार्य योजना 2020 को लागू करने में राज्यों और केंद्र शासमित प्रदेशों की रैंकिंग में आंध्र प्रदेश, गुजरात और तेलंगाना सबसे सफल प्रदेशों की श्रेणी के अंतर्गत शीर्ष सात में शामिल हैं। वित्त मंत्री निर्मला सीतामरण ने गुरुवार को इस बारे में रिपोर्ट जारी की। हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, ओड़िशा और मध्य प्रदेश अन्य राज्य हैं, जिन्हें रैंकिंग में लक्ष्य हासिल करने को लेकर सफल राज्यों के रूप में वर्गीकृत किया गया है। आकांक्षी (एस्पायर) श्रेणी में असम, केरल और गोवा सहित सात राज्य शामिल हैं। रिपोर्ट के अनुसार उभरते कारोबारी परिवेश की श्रेणी में दिल्ली, पुडुचेरी और त्रिपुरा सहित 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को रखा गया है।

राज्यों के बीच प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा इसका उद्देश्य 

ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैकिंग जारी करने का उद्देश्य राज्यों के बीच व्यावसायिक माहौल को बेहतर बनाने की प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देना है जिससे कि वे घरेलू और वैश्विक निवेशकों को आकर्षित कर सकें। बीआरएपी-2020 में 301 सुधार बिंदु शामिल हैं, जिसके तहत 15 कारोबार नियामकीय क्षेत्र आते हैं। इनमें सूचना तक पहुंच, एकल खिड़की प्रणाली, श्रम, पर्यावरण और अन्य सुधार आदि। उद्योग संवर्द्धन एवं आंतरिक व्यापार विभाग (डीपीआईआईटी) बीआरएपी के तहत सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के लिए 2014 से यह रैंकिंग तैयार करता आया है। पिछली रैंकिंग सितंबर, 2020 में जारी की गई थी जिसमें आंध्र प्रदेश को कारोबारी सुगमता के मामले में पहला स्थान मिला था। उसके बाद उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, मध्य प्रदेश और झारखंड थे। यह रैंकिंग वर्ष 2015, 2016, 2017-18 और 2019 के लिए जारी की जा चुकी है। 

Latest Business News