ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. गैजेट
  5. आपके पास हैं इस संख्या से ज्यादा सिम तो हो जाएंगे बंद! सरकार ने मोबाइल कंपनियों को दिया नया आदेश

आपने भी खरीदे हैं परिवार और दोस्तों के सिमकार्ड तो हो जाएं सावधान! सरकार बंद करने जा रही है लाखों नंबर

ग्राहकों के पास अनुमति से अधिक SIM कार्ड पाए जाने की स्थिति में उन्हें अपनी मर्जी का सिम चालू रखने और शेष को बंद करने का विकल्प दिया जाएगा।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: December 09, 2021 12:26 IST
आपके पास हैं इस...- India TV Paisa
Photo:PIXABAY

आपके पास हैं इस संख्या से ज्यादा सिम तो हो जाएंगे बंद, सरकार ने मोबाइल कंपनियों को दिया नया आदेश 

Highlights

  • 9 से अधिक मोबाइल सिम रखने वाले यूजर्स के मोबाइल नंबरों का एक बार फिर से सत्यापन होगा
  • जम्मू-कश्मीर और असम समेत पूर्वोत्तर के लिए मोबाइल नंबरों की संख्या 6 सिम कार्ड की है
  • ग्राहकों को अपनी मर्जी का सिम चालू रखने और शेष को बंद करने का विकल्प दिया जाएगा

अगर आप भी कपड़ों की तरह मोबाइल नंबर लेते हैं, या फिर आपने अपने नाम से परिवार और दोस्तों के लिए मोबाइल सिम (SIM Card) रखीद रखे हैं तो सावधान! सरकार ने नया आदेश जारी किया है कि इसके तहत 9 से अधिक मोबाइल सिम रखने वाले यूजर्स के मोबाइल नंबरों का एक बार फिर से सत्यापन होगा। बता दें कि जम्मू-कश्मीर और असम समेत पूर्वोत्तर के लिए यह संख्या 6 सिम कार्ड की है। दूरसंचार विभाग यदि आपके दस्तावेजों से संतुष्ट नहीं होता है तो आपके सिमकार्ड बंद भी किए जा सकते हैं।

केंद्र सरकार ने डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्यूनिकेशन (Department of Telecommunication) यानि दूरसंचार विभाग ने यह आदेश दिया है। दूरसंचार विभाग की तरफ से जारी आदेश के अनुसार ग्राहकों के पास अनुमति से अधिक SIM कार्ड पाए जाने की स्थिति में उन्हें अपनी मर्जी का सिम चालू रखने और शेष को बंद करने का विकल्प दिया जाएगा। 

9 से ज्यादा सिम वाले ग्राहकों को मिलेगा विकल्प

दूरसंचार विभाग की तरफ से जारी आदेश के अनुसार ग्राहकों के पास अनुमति से अधिक सिम कार्ड पाए जाने की स्थिति में उन्हें अपनी मर्जी का सिम चालू रखने और शेष को बंद करने का विकल्प दिया जाएगा। विभाग ने कहा, विभाग द्वारा किये गए विश्लेषण के दौरान अगर किसी ग्राहक के पास सभी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनियों के सिम कार्ड निर्धारित संख्या से अधिक पाए जाते है तो सभी SIM का फिर से सत्यापन किया जाएगा। 

इसलिए उठाया गया यह कदम

दूरसंचार विभाग ने यह कदम दरअसल वित्तीय अपराधों, आपत्तिजनक कॉल, स्वचालित कॉल और धोखाधड़ी गतिविधियों की घटनाओं की जांच करने को लेकर उठाया है। विभाग ने दूरसंचार कंपनियों से उन सभी मोबाइल नंबर को डेटाबेस से हटाने के लिए कहा है जो नियम के अनुसार उपयोग में नहीं हैं।

डिजिटल हुई KYC की व्यवस्था 

आपको बता दें कि सरकार ने इस साल सितंबर में सिम कार्ड केवाईसी नियमों में बदलाव किया था। नए कनेक्शन लेने या प्रीपेड नंबर को पोस्टपेड में या पोस्टपेड को प्रीपेड में बदलने के लिए फिजिकल फॉर्म भरने की जरूरत नहीं होगी। टेलीकॉम कंपनियां ये फॉर्म भरने का काम डिजिटल माध्यम से कर सकेंगी। अगर आपको कोई नया मोबाइल नंबर या टेलीफोन कनेक्शन लेना है तो आपका KYC पूरी तरह से डिजिटल होगी। KYC के लिए आपको किसी तरह का कोई कागज जमा नहीं करना होगा। पोस्टपेड सिम को प्रीपेड कराने जैसे सभी कामों के लिए अब कोई फॉर्म नहीं भरना होगा। इसके लिए डिजिटल KYC मान्य होगी

Write a comment
elections-2022