1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. शेयर बाजारों में लगातार तीसरे दिन आई तेजी, सेंसेक्स व निफ्टी ने बनाया एक और नया रिकॉर्ड

शेयर बाजारों में लगातार तीसरे दिन आई तेजी, सेंसेक्स व निफ्टी ने बनाया एक और नया रिकॉर्ड

कारोबारियों ने कहा कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव द्वारा अभियोग शुरू करने की खबरों से शेयर बाजारों ने कारोबार की सतर्क शुरुआत की।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: December 19, 2019 17:38 IST
Sensex, Nifty rally to fresh record highs- India TV Paisa

Sensex, Nifty rally to fresh record highs

मुंबई। विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) की जारी लिवाली के बीच ईंधन, सूचना प्रौद्योगिकी तथा वाहन कंपनियों में तेजी आने से घरेलू शेयर बाजार में गुरुवार को लगातार तीसरे दिन नए रिकॉर्ड बनने का क्रम जारी रहा। बीएसई के 30 शेयरों वाले संवेदी सूचकांक सेंसेक्स में 115.35 अंक यानी 0.28 प्रतिशत की तेजी रही और यह 41,673.92 अंक के नए रिकॉर्ड उच्च स्तर पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह एक समय सर्वकालिक उच्च स्तर 41,719.29 अंक तक पहुंच गया।

इसी तरह एनएसई का निफ्टी भी 38.05 अंक यानी 0.31 प्रतिशत की तेजी के साथ रिकॉर्ड 12,259.70 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में येस बैंक में सर्वाधिक 6.74 प्रतिशत की तेजी रही। इसके बाद टीसीएस, टाटा मोटर्स, भारती एयरटेल, महिंद्रा एंड महिंद्रा और रिलायंस इंडस्ट्रीज का स्थान रहा। वेदांता, एचडीएफसी, सन फार्मा और इंडसइंड बैंक में 2.26 प्रतिशत तक की गिरावट आई।

कारोबारियों ने कहा कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव द्वारा अभियोग शुरू करने की खबरों से शेयर बाजारों ने कारोबार की सतर्क शुरुआत की। इसके बाद शेयर बाजारों ने एफपीआई की जारी लिवाली के दम पर रिकॉर्ड बनाने का क्रम जारी रखा।

अस्थायी आंकड़ों के अनुसार, बुधवार को एफपीआई ने घरेलू शेयर बाजारों से 1,836.81 करोड़ रुपए के शेयरों की शुद्ध खरीदारी की। हालांकि, घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 1,267.57 करोड़ रुपए की शुद्ध बिकवाली की। एशियाई बाजारों में मिश्रित रुख रहा। यूरोपीय बाजार शुरुआती कारोबार में गिरावट में चल रहे थे। इस बीच रुपया 17 पैसे गिरकर 71.15 रुपए प्रति डॉलर पर चल रहा था। ब्रेंट क्रूड का वायदा 0.12 प्रतिशत मजबूत होकर 66.25 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था। 

Write a comment