1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. वेरीफ‍िकेशन के लिए बार-बार Aadhaar number बताने की नहीं है जरूरत, करें हर बार वर्चुअल आईडी का इस्‍तेमाल

वेरीफ‍िकेशन के लिए बार-बार Aadhaar number बताने की नहीं है जरूरत, करें हर बार वर्चुअल आईडी का इस्‍तेमाल

यदि कोई आधार कार्ड धारक अपना आधार नंबर बताने का इच्छुक नहीं है, तब ऐसी स्थिति में आधार (Aadhaar) जारी करने वाली संस्था भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने आधार कार्ड धारक को अपनी वर्चुअल आईडी (Virtual ID) के उपयोग की अनुमति प्रदान की है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: March 11, 2021 17:57 IST
Don't want to disclose your Aadhaar number No problem, use Virtual ID - India TV Hindi News
Photo:AADHAAR@TWITTER

Don't want to disclose your Aadhaar number No problem, use Virtual ID

नई दिल्‍ली। यदि कोई आधार कार्ड धारक अपना आधार नंबर बताने का इच्‍छुक नहीं है, तब ऐसी स्थिति में आधार (Aadhaar) जारी करने वाली संस्‍था भारतीय विशिष्‍ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने आधार कार्ड धारक को अपनी वर्चुअल आईडी (Virtual ID) के उपयोग की अनुमति प्रदान की है। हालांकि, इसके लिए आधार कार्ड धारक का मोबाइल नंबर आधार के साथ रजिस्‍टर्ड होना आवश्‍यक है। ताकि आप वर्चुटल आईडी को जनरेट/रिट्राइव कर सकें।

क्‍या है आधार वर्चुअल आईडी

गोपनीयता मुद्दे को हल करने के लिए, UIDAI ने अप्रैल 2018 में वर्चुअल आईडी के एक नए कॉन्‍सेप्‍ट को पेश किया था, जिसे आधार कार्ड धारक इसकी वेबसाइट से जनरेट कर सकता है और इसका इस्‍तेमाल सिम वेरीफ‍िकेशन सहित तमाम उद्देश्‍यों के लिए कर सकता है। वास्‍तविक 12 अंकों का आधार नंबर बताने के बजाये कार्ड धारक इस वर्चुअल आईडी के माध्‍यम से सारे काम कर सकता है और अपनी गोपनीयता को भी सुरक्षित रख सकता है। इस कदम का उद्देश्‍य आधार डाटा की गोपनीयता और सुरक्षा को मजबूत बनाना है।

ऑनलाइन ऐसे करें आधार वर्चुअल आईडी को जनरेट

  • वर्चुअल आईडी, जो कि एक रैंडम 16 अंकों का नंबर होगा, यूजर के बायोमेट्रिक के साथ मोबाइल कंपनी जैसी किसी भी ऑथोराइज्‍ड एजेंसी को सीमित विवरण जैसे नाम, पता और फोटोग्राफ ही उपलब्‍ध कराता है, जो किसी भी वेरीफ‍िकेशन के लिए पर्याप्‍त है। वर्चुअल आईडी जनरेट करने के लिए आपको पहले UIDAI की वेबसाइट https://www.uidai.gov.in पर लॉगऑन करना होगा।
  • लॉग इन करने के बाद, आपको आधार सर्विस ऑप्‍शन में जाकर वर्चुअल आईडी पर क्लिक करना होगा। यहां आपको एक अलग पेज पर लैंड करवाया जाएगा। यहां अब आपको अपना 12 अंकों का आधार नंबर, सिक्‍यूरिटी कोड डालना होगा और इसके बाद ओटीपी जनरेट करना होगा। यह ओटीपी आपके रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा।
  • अब आप दोबारा पुराने पेज पर आएंगे और यहां ओटीपी डालेंगे और जनरेट वर्चुअल आईडी को सिलेक्‍ट करेंगे। जब आपका वर्चुअल आईडी जनरेट हो जाएगा तब आपको एक सक्‍सेसफुल वेरीफ‍िकेशन मैसेज प्राप्‍त होगा। एक यूजर जितनी बार चाहे उतनी बार वर्चुअल आईडी जनरेट कर सकता है। जब भी फ्रेश आईडी जनरेट की जाएगी, उसके बाद पुरानी आईटी ऑटोमैटिकली कैंसल हो जाएगी।
  • वर्चुअल आईडी एक निर्धारित अवधि के लिए मान्‍य होगी या तब तक यह वैध रहेगी जब तक आप इसे चेंज करने का निर्णय नहीं लेते। आप ऑथेंटिकेशन के वक्‍त अपने फ‍िंगरप्रिंट के साथ सर्विस एजेंसी को यह वर्चुअल आईडी प्रस्‍तुत कर सकते हैं। यह भी आधार कार्ड की तरह ही मान्‍य है।

यह भी पढ़ें: OMG! यहां LPG गैस सिलेंडर की कीमत 1863 रुपये, कमर्शियल सिलेंडर आता है 7168 रुपये में

यह भी पढ़ें: पाकिस्‍तान ने टेके भारत के सामने घुटने, लिया ये फैसला

यह भी पढ़ें: SBI ग्राहकों के लिए खुशखबरी: हॉलीडे पर जाने और शादी करने के लिए दे रहा है पैसे, ऐसे करें अप्‍लाई

यह भी पढ़ें: इस सरकारी बैंक के ग्राहक 30 जून तक ही कर पाएंगे चेक बुक, IFSC/MICR का उपयोग....

यह भी पढ़ें: भारी डिस्‍काउंट पर घर खरीदने का मौका, Tata Housing की flash sale 12 मार्च से होगी शुरू 

Latest Business News

Write a comment
>independence-day-2022