1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. Good News: केवल 5 मिनट में चार्ज होगी बैटरी, इलेक्ट्रिक वाहन क्षेत्र में आएगी अब नई क्रांति

Good News: केवल 5 मिनट में चार्ज होगी बैटरी, इलेक्ट्रिक वाहन क्षेत्र में आएगी अब नई क्रांति

सीमित रेंज एक बड़ी चिंता थी जिसकी वजह से इलेक्ट्रिक वाहनों को पूरी दुनिया में सरकारी अनुदान के बावजूद व्यक्तिगत परिवहन के रूप में ज्यादा तवज्जो नहीं मिल पा रही थी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: January 21, 2021 12:40 IST
Israeli Firm StoreDot Releases EV Battery That Can Charge In 5 Minutes- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

Israeli Firm StoreDot Releases EV Battery That Can Charge In 5 Minutes

नई दिल्‍ली। इजराइल की एक कंपनी ने दुनिया की पहली सुपरफास्‍ट इलेक्ट्रिक व्‍हीकल बैटरी को पेश करने की घोषणा की है, जिसे केवल पांच मिनट में फुल चार्ज किया जा सकता है। इस नई बैटरी टेक्‍नोलॉजी के आने के बाद इलेक्ट्रिक व्‍हीकल सेगमेंट में एक नई क्रांति की उम्‍मीद की जा रही है। इस बैटरी से उपभोक्‍ताओं की सबसे बड़ी चिंता इसकी सीमित रेंज के खत्‍म होने की संभावना है।  

इजराइल की बैटरी कंपनी स्‍टोरडॉट (StoreDot) ने अपने एक बयान में कहा है कि यह पहली बार है जब अत्‍यधिक फास्‍ट चार्जिंग बैटरी का प्रदर्शन किया गया है, जो कमर्शियली वाइबल है। कंपनी ने कहा कि उसने सेल के एनोड में मेटालॉयड नैनो-पार्टिकल्‍स का उपयोग कर ग्रेफाइट को सफलतापूर्वक रिप्‍लेस करने में सफलता पाई है। यह सुरक्षा, बैटरी साइकिल लाइफ के लिए बड़ी चिंता थी।  

सीमित रेंज एक बड़ी चिंता थी जिसकी वजह से इलेक्ट्रिक वाहनों को पूरी दुनिया में सरकारी अनुदान के बावजूद व्‍यक्तिगत परिवहन के रूप में ज्‍यादा तवज्‍जो नहीं मिल पा रही थी। दूसरा कारण सुरक्षा था। और ये दोनों चिंताएं सीधे तौर पर बैटरी से जुड़ी थीं।

यह भी पढ़ें: क्‍या आप भी बदलना चाहते हैं Aadhaar Card में अपनी फोटो, जानिए क्‍या है इसका तरीका

दूसरे शब्‍दों में कहे तो इलेक्ट्रिक व्‍हीकल सेगमेंट में मुख्‍य फोकस बैटरी पर ही था और स्‍टोरडॉट ने इस समस्‍या का समाधान कर लाखों लोगों की चिंता का समाधान करने की कोशि‍श की है। स्‍टोरडॉट के सीईओ डोरोन मायर्सडॉर्फ ने कहा कि वह एक सही पार्टनर की खोज कर रहे हैं और वह 2025 तक अपनी इस सुपरफास्‍ट चार्जिंग बैटरी को बाजार में पेश करेंगे।

उन्‍होंने कहा कि मौजूदा ईवी-चार्जिंग इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर भी एक समस्‍या है क्‍योंकि इन्‍हें 5 मिनट चार्जिंग टाइम के अनुरूप तैयार नहीं किया गया है। दूसरी समस्‍या एक्‍सट्रीमली फास्‍ट चार्जिंग के परिणाम स्‍वरूप बैटरी डीग्रेडेशन की है। यदि इन समस्‍याओं से पार पा लिया जाता है तो ईवी का भविष्‍य उज्‍जवल होगा।  

यह भी पढ़ें: Reliance-Future deal को मिली मंजूरी, BSE ने भी दी हरी झंडी

यह भी पढ़ें: मुफ्त में LPG रसोई गैस सिलेंडर पाने का मौका, जल्‍दी करें 31 जनवरी तक ही है ये ऑफर

यह भी पढ़ें: महीनों से लापता Jack Ma पहली बार आए सबके सामने, वीडियो संदेश के जरिये तोड़ी अपनी चुप्‍पी

यह भी पढ़ें: अमेरिका के 46वें राष्‍ट्रपति बनेंगे जो बाइडेन, जानिए कितनी मिलेगी सैलरी और क्‍या-क्‍या सुविधाएं

Write a comment