1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Reliance-Future deal को मिली SEBI से मंजूरी, BSE ने भी Amazon की आपत्ति को दरकिनार कर दी हरी झंडी

Reliance-Future deal को मिली SEBI से मंजूरी, BSE ने भी Amazon की आपत्ति को दरकिनार कर दी हरी झंडी

भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड ने कुछ शर्तों के साथ इस सौदे को मंजूरी दे दी है। पिछले साल अगस्त में इस सौदे की घोषणा की गई थी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: January 21, 2021 8:27 IST
Reliance-Future deal gets SEBI nod, BSE no-adverse-observation status- India TV Paisa

Reliance-Future deal gets SEBI nod, BSE no-adverse-observation status

नई दिल्‍ली। पूंजी बाजार नियामक सेबी (SEBI) ने फ्यूचर ग्रुप (Future Group) को रिलायंस (Reliance) को अपनी परिसंपत्ति बेचने की योजना को बुधवार को मंजूरी दे दी। इसके बाद बंबई स्टॉक एक्सचेंज (BSE) ने भी 24,713 करोड़ रुपये के इस सौदे पर अपनी मुहर लगा दी। अमेजन (Amazon) ने भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) और अन्य नियामक एजेंसियों को कई पत्र लिखकर इस सौदे को अनुमति नहीं देने का अनुरोध किया था।

भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड ने कुछ शर्तों के साथ इस सौदे को मंजूरी दे दी है। पिछले साल अगस्त में इस सौदे की घोषणा की गई थी। बीएसई ने यह भी कहा है कि फ्यूचर-रिलायंस ग्रुप के इस सौदे पर सेबी की अनुमति अदालत में लंबित मामलों के नतीजों पर निर्भर करेगी।

अमेजन के प्रवक्‍ता ने कहा कि बीएसई और एनएसई द्वारा जारी पत्र में यह साफ कहा गया है कि सेबी ने फ्यूचर-रिलायंस के बीच प्रस्‍तावित सौदे को जो मंजूरी दी है, वह पूरी तरह से आर्बिट्रेशन और दिल्‍ली उच्‍च न्‍यायालय में चल रहे मामले के फैसले पर निर्भर करेगी। हम अपने अधिकारों की रक्षा के लिए आगे भी कानूनी लड़ाई लड़ते रहेंगे।

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (CCI)  रिलायंस द्वारा फ्यूचर ग्रुप के रिटेल, होलसेल, लॉजिस्टिक्स और वेयर हाउसिंग कारोबार का अधिग्रहण करने की मंजूरी पहले ही दे चुका है। एक निश्चित सीमा के बाहर के समझौतों को भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (CCI) की मंजूरी की जरूरत होती है, जिससे अलग-अलग क्षेत्रों में गलत कारोबारी गतिविधियों पर नजर रखने में मदद मिलती है।

अमेजन कर रही है इस सौदे का विरोध

ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन ने फ्यूचर ग्रुप और रिलायंस के बीच होने वाले सौदे का विरोध कर रही है। अमेजन ने 2019 में फ्यूचर कूपंस की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी 2,000 करोड़ रुपये में खरीदी थी। सौदे में एक शर्त यह भी थी कि किसी दूसरी कंपनी के साथ सौदा करने से पहले फ्यूचर  ग्रुप को पहले अमेजन को बताना पड़ेगा। अमेजन के मना करने पर ही फ्यूचर किसी और को होल्डिंग बेच सकेगी।

यह भी पढ़ें: महीनों से लापता Jack Ma पहली बार आए सबके सामने, वीडियो संदेश के जरिये तोड़ी अपनी चुप्‍पी

यह भी पढ़ें: अमेरिका के 46वें राष्‍ट्रपति बनेंगे जो बाइडेन, जानिए कितनी मिलेगी सैलरी और क्‍या-क्‍या सुविधाएं

यह भी पढ़ें: खुशखबरी: अब credit cards पर मिलेगी ब्‍याज-फ्री कैश लेने की सुविधा

यह भी पढ़ें: SBI, HDFC और ICICI बैंक के ग्राहक जरूर पढ़ें ये खबर, RBI ने किया इनके बारे में बड़ा खुलासा

Write a comment
health conf 2021
X