1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. BharatPe ने एमएएस फाइनेंशि‍यल से कर्ज के रूप में जुटाये 100 करोड़ रुपये, विस्‍तार पर करेगी खर्च

BharatPe ने एमएएस फाइनेंशि‍यल से कर्ज के रूप में जुटाये 100 करोड़ रुपये, विस्‍तार पर करेगी खर्च

2018 में अशनीर ग्रोवर और शाश्वत नकरानी द्वारा स्थापित भारतपे 140 शहरों में 70 लाख से अधिक कारोबारियों को अपनी सेवाएं दे रहा है। यह हर महीने 11 करोड़ यूपीआई लेनदेन का प्रसंस्करण करता है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: October 25, 2021 16:06 IST
BharatPe raises Rs 100 cr in debt from MAS Financial- India TV Paisa
Photo:BHARATPE

BharatPe raises Rs 100 cr in debt from MAS Financial

नई दिल्‍ली। फ‍िनटेक कंपनी भारतपे (BharatPe) ने सोमवार को कहा कि उसने एमएएस फाइनेंशियल सर्विसेस से कर्ज के रूप में 100 करोड़ रुपये (1.4 करोड़ डॉलर) जुटाये हैं। 2021 में कंपनी द्वारा कर्ज से जुटाई जाने वाली राशि का यह आठवां चरण है। भारतपे ने चालू कैलेंडर वर्ष में अब तक कर्ज के रूप में कुल 600 करोड़ रुपये (8.4 करोड़ डॉलर) की राशि जुटाई है।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि भारतपे अपने लेंडिंग वर्टिकल को लेकर काफी उत्‍साहित है, जिसने पिछले वित्‍त वर्ष के दौरान 10 गुना वृद्धि दर्ज की है। इस प्रोडक्‍ट के लॉन्‍च के बाद से अबतक 3 लाख से अधिक व्‍यापारियों को 40 करोड़ डॉलर से अधिक का असुरक्षित ऋण उपलब्‍ध कराया जा चुका है। भारतपे ने इस साल पहले के चरणामें में वेंचर डेट फंड्स (अल्‍टेरिया कैपिटल, इन्‍नोवेन कैपिटल और ट्राईफेक्‍टा कैपिटल), बैंक्‍स (आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक), एनबीएफसी (नॉर्दन आर्क कैपिटल) और वेल्‍थ मैनेजमेंट कंपनी (आईआईएफएल वेल्‍थ एंड असेट मैनेजमेंट) से 500 करोड़ रुपये का कर्ज हासिल किया है।

कंपनी ने बयान में कहा कि वह वित्‍त वर्ष 2021-22 के लिए अपने कर्ज जुटाने के लक्ष्‍य को हासिल करने के रास्‍ते पर है। अगस्‍त में, भारतपे ने कहा था कि वह वित्‍त वर्ष 2021-22 में 25 करोड़ डॉलर का कर्ज जुटाएगी। इंडस्‍ट्री रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में एसएमई लोन में 40 करोड़ डॉलर की संभावनाएं मौजूद हैं। भारतपे भारत में छोटे कारोबारियों और किसाना स्‍टोर मालिकों के लिए क्रेडिट अंतर को भरने के लिए प्रतिबद्ध है।

भारतपे के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी सुहैल समीर ने कहा कि हाल ही में जुटाया गया कर्ज कंपनी के लिए वह कच्‍चा माल है जिसके आधार पर वह अपने मर्चेंट लेंडिंग वर्टिकल का और अधिक अक्रामकता के साथ विस्‍तार कर सकेगी। भारतपे देश में आज सबसे बड़ी बी2बी फ‍िनटेक लेंडर्स में से एक है। यह हर महीने ऑफलाइन कारोबारियों को 300 करोड़ रुपये का कर्ज वितरित कर रही है।

2018 में अशनीर ग्रोवर और शाश्‍वत नकरानी द्वारा स्‍थापित भारतपे 140 शहरों में 70 लाख से अधिक कारोबारियों को अपनी सेवाएं दे रहा है। यह हर महीने 11 करोड़ यूपीआई लेनदेन का प्रसंस्‍करण करता है। कंपनी अपनी स्‍थापना से लेकर अबतक कारोबारियों को 2800 करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज मुहैया करवा चुकी है।

पोर्टर ने टाइगर ग्लोबल, विट्रूवियन, अन्य से 750 करोड़ रुपये जुटाये

प्रौद्योगिकी आधारित शहरी लॉजिस्टिक कंपनी पोर्टर ने सोमवार को कहा कि उसने टाइगर ग्लोबल मैनेजमेंट और बिट्रुवियन पार्टनर्स के नेतृत्व में 750 करोड़ रुपये जुटाये हैं। कंपनी ने एक बयान में कहा कि वित्त पोषण के ‘ई’ श्रृंखला में मौजूदा निवेशकों सिकोइया कैपिटल इंडिया और लाइटरॉक इंडिया ने भी भागीदारी की। पोर्टर इस पूंजी निवेश के जरिए भारत के शीर्ष 35 शहरों में कारोबार विस्तार करेगी।

यह भी पढ़ें: धनतेरस-दिवाली पर इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स व स्‍मार्टफोंस की होगी मारामारी...

यह भी पढ़ें: महंगे पेट्रोल-डीजल की वजह से यहां सरकार ने की नागरिकों को विशेष महंगाई भत्‍ता देने की घोषणा...

यह भी पढ़ें: खुशखबरी, अब घर बैठे मिलेगी भवन निर्माण अनुमति...

यह भी पढ़ें: 6000mAh बैटरी व jio Offer के साथ 10999 रुपये में लॉन्‍च हुआ Nokia C30, एक बार चार्ज करने पर चलेगा पूरे तीन दिन

यह भी पढ़ें: महंगे पेट्रोल-डीजल ने बढ़ाई EV की लोकप्रियता, बिक्री में हो रहा है लगातार इजाफा

Write a comment
bigg boss 15