1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 29 जनवरी से शुरू होगा संसद का बजट सत्र, 1 फरवरी को पेश होगा आम बजट

29 जनवरी से शुरू होगा संसद का बजट सत्र, 1 फरवरी को पेश होगा आम बजट

संसद का बजट सत्र 29 जनवरी से शुरू होगा और 2 भागों में 8 अप्रैल तक चलेगा। पहला भाग 29 जनवरी से 15 फरवरी तक चलेगा। वहीं दूसरा भाग आठ मार्च से आठ अप्रैल तक आयोजित होगा।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: January 14, 2021 22:45 IST
1 फरवरी को पेश होगा...- India TV Paisa
Photo:PTI

1 फरवरी को पेश होगा बजट

नई दिल्ली। आज बजट सत्र का आधिकारिक ऐलान कर दिया गया है। लोकसभा सचिवालय ने सत्र का पूरा शेडयूल जारी किया है। संसद का बजट सत्र 29 जनवरी से शुरू होगा और 2 भागों में 8 अप्रैल तक चलेगा। पहला भाग 29 जनवरी से 15 फरवरी तक चलेगा। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 29 जनवरी को सुबह 11 बजे संसद के दोनों सदनों राज्यसभा और लोकसभा को संबोधित करेंगे। इसके बाद एक फरवरी को सुबह 11 बजे संसद में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण केंद्रीय बजट पेश करेंगी।

संसद की स्थायी समिति को विभिन्न मंत्रालयों/विभागोंकी अनुदान की मांगों पर विचार करना सुगम बनाने के लिए 15 फरवरी को सत्र का पहला चरण स्थगित कर दिया जाएगा और आठ मार्च से दूसरे चरण की बैठक शुरू होगी। सत्र का दूसरा भाग आठ मार्च से आठ अप्रैल तक आयोजित होगा। 17वीं लोकसभा के पांचवें सत्र में 35 सिटिंग्स होंगी, जो कि पहले भाग में 11 और दूसरे भाग में 24 निर्धारित की गई हैं।

बजट सत्र के दौरान कोविड 19 को लेकर सभी दिशानिर्देशों का पूरा पालन किया जाएगा। कोरोना संकट की वजह से बजट को तैयार करने में विशेष सावधानियां रखी गई हैं। इस साल बजट की छपाई नहीं की जा रही है। इस बार सभी को बजट की सॉफ्ट कॉपी दी जाएगी। इसके साथ ही इस साल वित्त मंत्री ने बजट पूर्व बैठक टेली कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए की। वित्त वर्ष 2021-22 के लिए बजट-पूर्व बैठकों का आयोजन 14 दिसंबर से 23 दिसंबर के दौरान किया। यह पहला मौका है जबकि कोविड-19 संकट की वजह से बजट-पूर्व बैठकों का आयोजन वर्चुअल तरीके से हुआ है। साथ ही सरकार ने बजट के लिए पोर्टल और ई-मेल के जरिए भी सुझाव मांगे। इस साल सरकार ने आम लोगों से भी बजट के लिए सुझाव मांगे हैं। कोरोना संकट को देखते हुए इस बार का बजट काफी अहम माना जा रहा है। सरकार इंडस्ट्री को राहत देने के लिए कई ऐलान कर चुकी है, हालांकि अभी भी कई सेक्टर राहत की उम्मीद कर रहे हैं।

Write a comment