1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. GST रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख फिर आगे बढ़ी, चेक करें नई डेडलाइन

GST रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख फिर आगे बढ़ी, चेक करें नई डेडलाइन

सरकार ने जीएसटी रिटर्न दाखिल करने की समयसीमा को 31 मार्च तक बढ़ा दिया है। यह सरकार द्वारा दिया गया दूसरा विस्तार है। इससे पहले समय सीमा 31 दिसंबर 2020 से बढ़ाकर 28 फरवरी कर दी गई थी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: February 28, 2021 21:12 IST
GST रिटर्न भरने की समय सीमा बढ़ी, अब 31 मार्च आखिरी तारीख- India TV Paisa
Photo:FILE

GST रिटर्न भरने की समय सीमा बढ़ी, अब 31 मार्च आखिरी तारीख

नई दिल्ली: सरकार ने जीएसटी रिटर्न दाखिल करने की समयसीमा को 31 मार्च तक बढ़ा दिया है। यह सरकार द्वारा दिया गया दूसरा विस्तार है। इससे पहले समय सीमा 31 दिसंबर 2020 से बढ़ाकर 28 फरवरी कर दी गई थी। इसपर वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इस समय सीमा को करदाताओं द्वारा व्यक्त की गई कठिनाइयों के मद्देनजर सरकार ने GSTR-9 और GSTR-9C प्रस्तुत करने की नियत तारीख को भारत निर्वाचन आयोग के  सहमती के बाद बढ़ाने का निर्णय लिया है।

जनवरी में जीएसटी राजस्व 1.20 लाख करोड़ रुपये के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंचा

माल एवं सेवा कर (जीएसटी) का संग्रह जनवरी में 1.20 लाख करोड़ रुपये के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया। वित्त मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी थी। मंत्रालय ने कहा था कि यह पिछले पांच महीनों में जीएसटी राजस्व संग्रह के रुख के अनुरूप है। जनवरी 2021 में जीएसटी संग्रह साल भर पहले की तुलना में आठ प्रतिशत अधिक है। वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘जनवरी 2021 में 31 तारीख की शाम छह बजे तक जीएसटी राजस्व संग्रह 1,19,847 करोड़ रुपये रहा। 

पढ़ें- किसान भाइयों की आय बढ़ने को लेकर खुशखबरी, कृषि मंत्रालय ने की बड़ी घोषणा

पढ़ें- PM Kisan: कई राज्यों ने रोके 59 लाख किसानों के पैसे, लिस्ट में ऐसे तुरंत चेक करें अपना नाम

पढ़ें- औकात पर लौटा पाकिस्तान, इमरान खान फिर फैला सकते हैं भारत के आगे हाथ!

इसमें केंद्रीय जीएसटी (सीजीएसटी) 21,923 करोड़ रुपये, राज्यों का जीएसटी (एसजीएसटी) 29,014 करोड़ रुपये, एकीकृत जीएसटी (आईजीएसटी) 60,288 करोड़ रुपये (सामानों के आयात से प्राप्त 27,424 करोड़ रुपये) और उपकर 8,622 करोड़ रुपये (माल के आयात पर एकत्र 883 करोड़ रुपये सहित) शामिल है।’’ जीएसटी बिक्री रिटर्न दाखिल करने की अधिक संख्या के कारण यह आंकड़ा और अधिक हो सकता है।

पढ़ें- LPG सिलेंडर 94 रुपए में पाने का आखिरी मौका, ऐसे उठाएं फायदा

पढ़ें- यूपी का यह शहर देगा अब मुंबई को टक्कर! योगी आदित्यनाथ ने लिया बड़ा फैसला

इससे पहले दिसंबर,2020 में भी माल एवं सेवा कर (GST) राजस्‍व संग्रह ने नया रिकॉर्ड छुआ था। जीएसटी संग्रह दिसंबर 2020 में 1.15 लाख करोड़ रुपये की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचा गया था, जिसमें जनवरी के दौरान और बढ़त देखने को मिली है। दिसंबर, 2020 में प्राप्‍त राजस्‍व पिछले साल समान माह में प्राप्‍त राजस्‍व की तुलना में 12 प्रतिशत अधिक रहा।  इससे पहले अप्रैल, 2019 में 1,13,866 करोड़ रुपये का राजस्‍व संग्रहित किया गया था। 

पढ़ें- सोना खरीदने को लेकर बड़ी खुशखबरी, सरकार ने तय की गोल्ड बांड की कीमत

पढ़ें- विदेशी मुद्रा भंडार मामले में पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल और श्रीलंका मिलकर भी नही कर पा रहें भारत का मुकाबला

जीएसटी लागू होने के बाद से अभी तक जनवरी को मिलाकर चार बार जीएसटी संग्रह 1.1 लाख करोड़ रुपये से अधिक रहा है। वहीं चालू वित्‍त वर्ष में यह लगातार चौथा महीना है जब जीएसटी संग्रह एक लाख करोड़ रुपये से अधिक रहा है। महामारी के बाद से लगातार सरकार की आय मे गिरावट देखने को मिली थी, अप्रैल में जीएसटी से आय 32172 करोड़ रुपये के स्तर तक गिर गई। हालांकि नए आंकड़ों से साफ है कि महामारी के बाद अर्थव्‍यवस्‍था में तेजी से सुधार आने के संकेत और मजबूत हो रहे हैं।

पढ़ें- FASTag से सरकार के पास आया रिकार्ड तोड़ पैसा, जानें कितनी हुई कमाई

Write a comment
X