1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. JSW, Tata जैसे औद्योगिक समूह अपने कर्मचारियों और उनके परिवार के लिए COVID vaccines खरीदने के लिए कर रहे हैं बातचीत

JSW, Tata जैसे औद्योगिक समूह अपने कर्मचारियों और उनके परिवार के लिए COVID vaccines खरीदने के लिए कर रहे हैं बातचीत

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा है कि बाजार में इस टीके की कीमत 1000 रुपये प्रति शॉट होगी और एक व्यक्ति को कम से कम दो शॉट लेना जरूरी होगा।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: January 14, 2021 14:20 IST
JSW and tata Group in talks to procure vaccines for employees- India TV Paisa
Photo:PTI

JSW and tata Group in talks to procure vaccines for employees

नई दिल्‍ली। जेएसडब्‍ल्‍यू ग्रुप (JSW Group), टाटा ग्रुप (Tata Group) की कुछ कंपनियां और एक प्रमुख बहुराष्‍ट्रीय कंपनी की भारतीय इकाई सहित कई कंपनियां अपने कर्मचारियों को कोरोना वायरस (COVID-19) संक्रमण से बचाने के लिए वैक्‍सीन निर्माताओं के साथ कोरोना वैक्‍सीन (COVID vaccines) खरीदने के लिए या तो बातचीत शुरू कर चुकी हैं या करने की योजना बना रही हैं।

मनी कंट्रोल की खबर के मुताबिक इन कंपनियों के कार्यकारियों ने कहा कि अभी यह बातचीत शुरुआती स्‍तर पर है। हमारी योजना विनिर्माण संयंत्रों में काम करने वाले कर्मचारियों को पहले टीका लगाने की है। घरों से काम करने वाले कर्मचारियों की तुलना में कारखानों में काम करने वाले कर्मचारी हमारी पहली प्राथमिकता हैं।

सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया ने 12 जनवरी से कोविशील्‍ड वैक्‍सीन (Covishield vaccines) की डिलीवरी शुरू कर दी है, जबकि भारत बायोटेक ने एक दिन बार कोवैक्‍सीन (Covaxin doses) की डिलीवरी शुरू की। पीएम मोदी 16 जनवरी को राष्‍ट्रीय टीकाकरण अभियान की शुरुआत करेंगे। सरकार पहले चरण में 3 करोड़ हेल्‍थकेयर और फ्रंट लाइन पेशेवरों को टीका मुफ्त में लगाएगी। सरकार ने ये टीका 200 रुपये प्रति शॉट की दर पर खरीदा है।

ऐसी उम्‍मीद है कि बाजार में यह टीका मार्च या अप्रैल में आएगा। सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा है कि बाजार में इस टीके की कीमत 1000 रुपये प्रति शॉट होगी और एक व्‍यक्ति को कम से कम दो शॉट लेना जरूरी होगा। फ‍िलहाल इन टीकों को खुले बाजार में बिक्री के लिए सरकार ने अभी मंजूरी नहीं दी है, लेकिन उम्‍मीद जताई जा रही है कि जल्‍द ही इसकी मंजूरी मिल जाएगी।

जेएसडब्‍ल्‍यू स्‍टील ने पहले ही वैक्‍सीन निर्माताओं के साथ बातचीत शुरू कर दी है। फार्मा इंडस्‍ट्री के एक सूत्र ने बताया कि कंपनी को मार्च तक टीके की पहली खेप मिल सकती है। बातचीत अभी जारी है और इस पर काम किया जा रहा है। यह बातचीत 2 से 3 लाख टीकों के लिए चल रही है। संपर्क करने पर जेएसडब्‍ल्‍यू के एक वरिष्‍ठक कार्यकारी ने इसकी पुष्टि की और कहा कि उनका ग्रुप कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्‍यों को डबल शॉट देने पर विचार कर रहा है। उन्‍होंने और अधिक जानकारी देने से इनकार कर दिया।

जेएसडब्‍ल्‍यू स्‍टील के लगभग 13,160 कर्मचारी हैं। यह ग्रुप एनर्जी, सीमेंट, पेंट्स और इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर क्षेत्र में भी कार्यरत है और इसके कुल कर्मचारियों की संख्‍या लगभग 25,000 है। इंडस्‍ट्री के कार्यकारियों ने बताया कि कीमत को लेकर भी वैक्‍सीन निर्माताओं के साथ मोलभाव चल रहा है।

टाटा ग्रुप के नजदीकी सूत्र ने बताया कि समूह की कुछ कंपनियों ने वैक्‍सीन खरीदने के लिए बातचीत शुरू की है। कंपनिया अपने-अपने स्‍तर पर अलग-अलग बातचीत कर रही हैं। अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है। बहुराष्‍ट्रीय विनिर्माण कंपनी की भारतीय इकाई भी अपनी मूल कंपनी से मंजूरी का इंतजार कर रही है, जो यूरोप और नॉर्थ अमेरिका में अपने कर्मचारियों के लिए वैश्विक वैक्‍सीन निर्माताओं से बातचीत कर रही है। एक कार्यकारी ने बताया कि वह मूल कंपनी के जवाब का इंतजार कर रहे हैं। कंपनी के भारत में लगभग 7000 कर्मचारी हैं।

नवंबर में एक साक्षात्‍कार में बायोकॉन चेयरपर्सन किरण मजूमदार शॉ ने सरकार से मांग की थी कि वह कॉरपोरेट्स को अपने कर्मचारियों का टीकाकरण करने क लिए सीएसआर फंड का उपयोग करने की मंजूरी दे।

यह भी पढ़ें: लगातार दूसरे दिन महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल, 100 रुपये में आएगा अब इतना ईंधन

यह भी पढ़ें: इस  का पासपोर्ट है सबसे पावरफुल, जानिए भारत की क्‍या है स्थिति

यह भी पढ़ें: नए कृषि कानूनों पर रोक लगने के बाद सरकार ने किया किसानों से इस योजना का लाभ उठाने का आह्ववान

यह भी पढ़ें: कार जैसे फीचर्स के साथ 52,999 रुपये में लॉन्‍च हुआ ये स्‍कूटर, नहीं पड़ेगी रजिस्‍ट्रेशन और लाइसेंस की जरूरत

Write a comment