1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. रिलायंस रिटेल ने पूरा किया हिस्सा बिक्री का मौजूदा चरण, 2 महीने के अंदर जुटाए 47265 करोड़ रुपये

रिलायंस रिटेल ने पूरा किया हिस्सा बिक्री का मौजूदा चरण, 2 महीने के अंदर जुटाए 47265 करोड़ रुपये

रिलायंस रिटेल ने आज जानकारी दी है कि कंपनी ने 2 महीने के अंदर 10.09 फीसदी हिस्सेदारी के बदले 47265 करोड़ रुपये जुटा लिए हैं। कंपनी के मुताबिक रकम जुटाने से लेकर शेयर जारी करने तक सभी प्रक्रिया पूरी कर ली गई हैं।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: November 19, 2020 19:58 IST
रिलायंस रिटेल 47265...- India TV Paisa
Photo:PTI

रिलायंस रिटेल 47265 करोड़ रुपये जुटाने की प्रक्रिया पूरी की

नई दिल्ली। रिलायंस इंडस्ट्रीज और रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड ने रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड के लिए फंड जुटाने का मौजूदा चरण पूरा कर लिया है। रिलायंस रिटेल ने आज जानकारी दी है कि कंपनी ने 2 महीने के अंदर 10.09 फीसदी हिस्सेदारी के बदले 47265 करोड़ रुपये जुटा लिए हैं। कंपनी के मुताबिक रकम जुटाने से लेकर शेयर जारी करने तक सभी प्रक्रिया पूरी कर ली गई हैं।

फंड जुटाने की इस कड़ी में सबसे पहले सिल्वर लेक पार्टनर्स ने 25 सितंबर को 7500 करोड़ रुपये में रिलायंस रिटेल में 1.6 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी। 9 अक्टूबर को सिल्वर लेक पार्टनर्स ने अन्य निवेशकों के साथ मिलकर 1875 करोड़ रुपये में  0.40 फीसदी और हिस्सेदारी खरीदी। 14 अक्टूबर को केकेआर ने 5550 करोड़ रुपये में 1.19 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी। वहीं 15 अक्टूबर को दो बड़े निवेशक कंपनी के साथ जुड़े, मुबादला ने 6247.5 करोड़ रुपये में 1.33 फीसदी हिस्सा खरीदा, वहीं एडीआईए ने 5512.5 करोड़ रुपये में 1.18 फीसदी हिस्सा खरीदा। अगले ही दिन जीआईसी ने भी 5512.5 करोड़ रुपये में 1.18 फीसदी हिस्सा खरीदा। वहीं 19 अक्टूबर को टीपीजी ने 0.39 फीसदी हिस्से के लिए 1837.5 करोड़ रुपये चुकाए। 21 अक्टूबर को जनरल एटलांटिक ने 3675 करोड़ रुपये में 0.78 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी। अंत में 9 नवंबर को पीआईएफ ने 9555 करोड़ रुपये में 2.04 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी। आज कंपनी ने ऐलान किया कि ये सभी डील पूरी हो गई हैं।

इस मौके पर रिलायंस रिटेल वेंचर की डायरेक्टर ईशा अंबानी ने कहा कि वो इतने मजबूत और नामी भागीदारों को रिलायंस रिटेल के साथ जोड़कर काफी गर्व महसूस कर रही हैं। वो उम्मीद करती हैं कि रिलायंस रिटेल नए भागीदारों के अनुभवों और दुनिया भर में उनकी पहुंच से लाभ उठाएगी। इसके साथ ही उन्होने कहा कि कंपनी लाखों छोटे कारोबारियों को मजबूत बनाकर भारतीय रिटेल सेक्टर में बदलाव लाने के लिए प्रतिबद्ध है।

Write a comment