ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. मारुति के बाद अब मर्सिडीज और ऑडी ने भी ग्राहकों को दि​या झटका, नए साल से बढ़ाएंगी कीमतें

मारुति के बाद अब मर्सिडीज और ऑडी ने भी ग्राहकों को दि​या झटका, नए साल से बढ़ाएंगी कीमतें

ऑडी ने कहा कि बढ़ते कच्चे माल और परिचालन लागत की भरपाई के लिए कीमतों में सुधार की आवश्यकता है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: December 02, 2021 19:17 IST
मारुति के बाद अब...- India TV Paisa
Photo:DAIMLER

मारुति के बाद अब मर्सिडीज और ऑडी ने भी ग्राहकों को दि​या झटका, नए साल से बढ़ाएंगी कीमतें

Highlights

  • मर्सिडीज बेंज इंडिया अपने वाहनों की कीमतों में 2% तक की वृद्धि का एलान किया है
  • ऑडी अपनी गाड़ियों के दाम तीन प्रतिशत तक बढ़ाएगी
  • मारुति सुजुकी अगले साल जनवरी से वाहनों की कीमतों में वृद्धि करेगी

नयी दिल्ली। लक्जरी कार बनाने वाली जर्मनी की कंपनियां मर्सिडीज बेंज इंडिया और ऑडी इंडिया कच्चे माल की लागत में बढ़ोतरी की वजह से अगले वर्ष से अपने वाहनों की कीमतों में वृद्धि करेंगी। मर्सिडीज बेंज इंडिया अपने वाहनों की कीमतों में जहां दो प्रतिशत तक की वृद्धि का एलान किया है , वही ऑडी अपनी गाड़ियों के दाम तीन प्रतिशत तक बढ़ाएगी। 

मर्सिडीज़ बेंज ने बृहस्पतिवार को एक बयान में कहा कि कच्चे माल की लागत में बढ़ोतरी को लेकर लागत की भरपाई के लिए केवल चुनिंदा मॉडलों की एक्स-शोरूम कीमत में एक जनवरी, 2021 से दो प्रतिशत तक की वृद्धि की जायेगी। वही ऑडी ने कहा कि बढ़ते कच्चे माल और परिचालन लागत की भरपाई के लिए कीमतों में सुधार की आवश्यकता है। कंपनी ने अपने सभी मॉडलों की कीमतों में तीन प्रतिशत तक की वृद्धि करेगी।

महंगी होंगी मारुति की कारें 

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह अगले साल जनवरी से वाहनों की कीमतों में वृद्धि की योजना बना रही है ताकि इनपुट लागत में वृद्धि के प्रभाव को कम किया जा सके। वाहन कंपनी ने विवरण साझा किए बिना कहा कि मूल्य वृद्धि अलग-अलग मॉडल की अलग-अलग होगी। एमएसआई ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा, ‘‘पिछले एक साल में, विभिन्न इनपुट लागतों में वृद्धि के कारण कंपनी के वाहनों की लागत पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। इसलिए, कंपनी के लिए मूल्य वृद्धि के माध्यम से उपरोक्त अतिरिक्त लागतों का कुछ प्रभाव ग्राहकों पर डालना अनिवार्य हो गया है।’’ जनवरी 2022 में मूल्य वृद्धि की योजना बनाई गई है और मूल्य वृद्धि विभिन्न मॉडलों के लिए अलग-अलग होगी।

Write a comment
elections-2022