1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. गौतम अडानी के 60वें जन्मदिन पर बड़ा ऐलान, परमार्थ कार्यों के लिए अडानी परिवार 60,000 करोड़ दान करेगा

गौतम अडानी के 60वें जन्मदिन के उपलक्ष्य में बड़ा ऐलान, परमार्थ कार्यों के लिए अडानी परिवार 60,000 करोड़ दान करेगा

अडानी ग्रुप के चेयरमैन, गौतम अडानी ने कहा कि यह साल मेरे पूज्य पिता की 100वीं जयंती के साथ मेरा भी 60वां जन्मदिन वर्ष है।

Alok Kumar Edited by: Alok Kumar @alocksone
Updated on: June 23, 2022 19:15 IST
Gautam Adani- India TV Paisa
Photo:FILE

Gautam Adani

देश के मशहूर उद्योगपति गौतम अडानी के 60वें जन्मदिन के उपलक्ष्य में अडानी परिवार ने बड़ा ऐलान किया है। अडानी परिवार ने सामाजिक कार्यों के लिए 60,000 करोड़ रुपये का दान देने का ऐलान किया है। यह साल गौतम अडानी के पिता श्री शांतिलाल अडानी की शताब्दी वर्ष भी है। यह पैसा अदानी फाउंडेशन द्वारा खर्च किया जाएगा। गौरतलब है कि भारत की बड़ी आबादी का लाभ लेने के लिए हेल्थ, शिक्षा और कौशल विकास के क्षेत्रों पर फोकस करने की जरूरत है। इनमें से किसी भी क्षेत्र में कमी 'आत्मनिर्भर भारत' की राह में रुकावट पैदा करेंगी। अडानी फाउंडेशन ने इन सभी क्षेत्रों में काम किया है और जरूरत को समझा है। इस क्षेत्र की चुनौतियों को कम कर इसे बेहतर बनाने का काम अडानी फाउंडेशन करेगा। 

ग्रामीण क्षेत्रों की बेहतरी पर खर्च होंगे रुपये

अडानी ग्रुप के चेयरमैन, गौतम अडानी ने कहा कि यह साल मेरे पूज्य पिता की 100वीं जयंती के साथ मेरा भी 60वां जन्मदिन वर्ष है। इस अवसर को देखते हुए अडानी परिवार ने परमार्थ कार्यों के लिए 60,000 करोड़ रुपये दान देने का फैसला किया है। इस पैसे का उपयोग भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य, शिक्षा और कौशल विकास पर किया जाएगा। हमारा अनुभव बड़ी परियोजना करने का है। साथ ही में अदानी फाउंडेशन द्वारा किए गए कार्यों से हमें इन कार्यक्रमों में तेजी लाने में मदद करेगी। अदानी परिवार के इस योगदान का उद्देश्य कुछ ऐसे प्रतिभाशाली लोगों को साथ लाना है, जो हमारे 'अच्छाई के साथ विकास' की दिशा में अडानी फाउंडेशन के साथ मिलकर बदलाव लाने का जुनून रखते हैं।"

समाज की बेहतरी के लिए मिलकर काम करें 

इस अवसर पर, अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के अध्यक्ष और विप्रो लिमिटेड के संस्थापक प्रेमजी ने कहा, “गौतम अडानी और उनके परिवार की परोपकार के प्रति प्रतिबद्धता को एक उदाहरण के तौर पर लेना चाहिए कि हम कर सकते हैं। हम सभी को महात्मा गांधी के सिद्धांत को मानते हुए अपनी व्यावसायिक सफलता के शिखर पर पहुंचने के बाद परमार्थ कार्यों के लिए दान करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा, हमारे देश की चुनौतियों और संभावनाओं की मांग है​, जिसे हम सभी को मिलकर करना चाहिए। मैं इस महत्वपूर्ण प्रयास के लिए गौतम अडानी और उनके फाउंडेशन को शुभकामनाएं देता हूं।

Write a comment