Budget 2023
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. अब ये कंपनी कर्मचारियों को बिना वेतन भेज रही छुट्टी पर, यहां काम करने वालों की हालत खराब

अब ये कंपनी कर्मचारियों को बिना वेतन भेज रही छुट्टी पर, यहां काम करने वालों की हालत खराब

Jet Airways: जेट एयरवेज परिचालन को फिर से शुरू करने में अनिश्चितता के बीच अपने कई कर्मचारियों के वेतन में कटौती के साथ बिना वेतन के छुट्टी पर भेजेगी। विमानन कंपनी अपने नए मालिक के आने के बाद अभी तक परिचालन शुरू नहीं कर पायी है।

India TV Business Desk Edited By: India TV Business Desk
Updated on: November 18, 2022 23:44 IST
अब ये कंपनी कर्मचारियों को बिना वेतन भेज रही छुट्टी पर- India TV Paisa
Photo:PTI अब ये कंपनी कर्मचारियों को बिना वेतन भेज रही छुट्टी पर

जेट एयरवेज के भविष्य को लेकर बने अनिश्चितता के माहौल के बीच जालान- कालरॉक समूह ने शुक्रवार को कहा कि नकदी के प्रवाह को व्यवस्थित करने के लिए कंपनी निकट भविष्य में कठिन फैसले ले सकती है। समूह की समाधान योजना को राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) ने पिछले वर्ष जून में मंजूरी दी थी। एयरलाइन को भी नागर विमानन महानिदेशालय से इस साल मई में हवाई परिचालन का प्रमाणपत्र मिल गया, उसके बावजूद जेट एयरवेज का परिचालन शुरू नहीं हुआ है। 

वेतन कटौती 50 प्रतिशत तक होगी

इस घटनाक्रम से जुड़े एक सूत्र ने कहा कि वेतन कटौती 50 प्रतिशत तक होगी। सीईओ और सीएफओ के लिए कटौती की मात्रा अधिक होगी। प्रभावित कर्मचारियों के लिए अस्थायी वेतन कटौती और बिना वेतन के छुट्टी (एलडब्ल्यूपी) एक दिसंबर से प्रभावी होगी। जेट एयरवेज के सीईओ संजीव कपूर ने ट्वीट एक श्रृंखला में कहा कि कुल कर्मचारियों का 10 प्रतिशत से कम अस्थायी अवकाश बिना वेतन पर होगा और एक तिहाई अस्थायी वेतन कटौती पर होगा। 

सीईओ ने दी जानकारी

सीईओ के अनुसार, दो-तिहाई कर्मचारी बिल्कुल प्रभावित नहीं हैं और किसी भी कर्मचारी को जाने के लिए नहीं कहा गया है। जेट एयरवेज में करीब 250 कर्मचारी काम करते हैं। इसके अलावा, पिछले महीने राष्ट्रीय कंपनी कानून अपीलीय प्राधिकरण (एनसीएलएटी) ने समूह को एयरलाइन के कर्मचारियों के बकाया भविष्य निधि और ग्रेच्युटी का भुगतान करने का निर्देश दिया था। 

जालान कालरॉक कंर्सोटियम (जेकेसी) ने एक बयान में कहा, ‘‘हम एनसीएलटी की प्रक्रिया के मुताबिक कंपनी की कमान अपने हाथों में आने का इंतजार कर रहे हैं लेकिन इसमें कहीं अधिक समय लग रहा है। इसकी वजह से हमें निकट भविष्य में कठिन लेकिन आवश्यक निर्णय लेने होंगे ताकि नकदी के प्रवाह को व्यवस्थित और भविष्य को सुरक्षित किया जा सके क्योंकि एयरलाइन अभी तक हमारे अधिकार में नहीं आई है।’’ जेकेसी ने कहा कि एयरलाइन को पुन: शुरू करने की दिशा में अहम प्रगति हो रही है। उसने आगे कहा, ‘‘हमने समाधान योजना की किसी भी शर्त का उल्लंघन नहीं किया है और जेट एयरवेज को नए सिरे से शुरू करने की हमारी प्रतिबद्धता है।’’ इसमें आगे कहा गया, ‘‘एनसीएलटी की मंजूरी के बाद, समाधान योजना में बताई गई सभी शर्तों को 20 मई 2022 तक पूरा कर लिया गया था और इस बाबत आवश्यक फाइलिंग भी 21 मई 2022 को एनसीएलटी के समक्ष कर दी गई।’’ इससे पहले ऐसी योजना थी कि एयरलाइन को अक्टूबर 2022 तक शुरू कर दिया जाएगा।

Latest Business News