1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. नौकरी पाने में युवाओं की कौशल विकास योजना कर रहा मदद, हर महीने लाखों लोगों को मिल रहे रोजगार

नौकरी पाने में युवाओं की कौशल विकास योजना कर रहा मदद, हर महीने लाखों लोगों को मिल रहे रोजगार

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय की ओर से चलाई जाती है। यह युवाओं को स्किल सीखने और उन्हें नौकरी दिलाने में मदद करता है।

Vikash Tiwary Edited By: Vikash Tiwary @ivikashtiwary
Published on: August 21, 2022 12:28 IST
नौकरी पाने में युवाओं...- India TV Hindi
Photo:INDIA TV नौकरी पाने में युवाओं की कौशल विकास योजना कर रहा मदद

Highlights

  • योजना के तहत दी जाने वाली ट्रेनिंग युवाओं के लिए पूरी तरह से मुफ्त होती है
  • कोर्स पूरा करने के बाद मिलता है सर्टिफिकेट
  • मुद्रा योजना के तहत 10 लाख तक का बिज़नेस लोन

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना(PMKVY): कोई भी देश तभी विकसित बन सकता है जब वहां की जनता पढ़ी लिखी और काम करने में सक्षम हो। भारत (India) दुनिया की सबसे बड़ी युवा आबादी वाला देश है, लेकिन स्किल डेवलपमेंट (Skill Development) के अभाव में यहां के लोगों को रोजगार के कम अवसर मिल रहे हैं। इसी मुश्किल से उबारने और देश को एक विकसित राष्ट्र बनाने की नियत से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने स्किल इंडिया (Skill India) मिशन की ​शुरुआत की थी। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय की ओर से चलाई जाती है।

इसके तहत युवाओं को विशेष उद्योगों के लिए तैयार किया जाता है। साथ ही इस योजना का उद्देश्य युवाओं को रोजगार प्रदान करना है। इसके साथ ही युवाओं को अपना काम शुरू करने के लिए आत्मनिर्भर बनाने के लिए भी यह योजना बेहद महत्वपूर्ण मानी जाती है। इस स्कीम में कम पढ़े लिखे या 10वीं, 12वीं कक्षा ड्राप आउट युवाओं को उद्योगों से जुड़ी ट्रेनिंग दी जाती है। इसके साथ ही युवाओं को अपना रोजगार शुरू करने के लिए 10 लाख रुपये तक का लोन भी मिलता है। 

मुद्रा योजना के तहत बिज़नेस लोन

इसके तहत युवा जेम्स एंड ज्वैलरी, ऑटोमोबाइल, मोबाइल ट्रेनिंग जैसे 40 से अधिक कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं। कौशल प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद, व्यक्ति बिज़नेस लोन लेकर अपना व्यवसाय शुरू कर सकता है या PMKVY से प्राप्त नए कौशल से एक नया काम शुरू कर सकता है। मुद्रा योजना के तहत बिज़नेस लोन आसानी से उपलब्ध है और लोन राशि देश के युवाओं की आवश्यकता के अनुरूप 50 हज़ार से 10 लाख के बीच होती है

कोर्स की फीस 

खास बात यह है कि प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) की यह ट्रेनिंग युवाओं के लिए पूरी तरह से मुफ्त होती है। ट्रेनिंग की फीस का सरकार खुद भुगतान करती है। बल्कि बतौर पुरस्कार राशि करीब 8000 रुपये सरकार देती है।

कोर्स की अवधि 

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में 3 महीने, 6 महीने और 1 साल के लिए रजिस्ट्रेशन होता है। कोर्स पूरा करने के बाद ही सर्टिफिकेट दिया जाएगा। जो पूरे देश में मान्य होता है।

नौकरी में मदद 

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) में ट्रेनिंग करने के बाद सरकार आर्थिक सहायता करने के साथ नौकरी दिलाने में भी मदद करती है। रोजगार मेलों के जरिए सरकार ऐसे युवाओं को नौकरी दिलाने में मदद करती है। अगर हम यूपी की बात करें तो अब तक प्रदेश के तीन मंडलों सहारनपुर, लखनऊ और गोरखपुर में रोजगार मेला लग चुका है। इसके तहत 15 हजार से ज्यादा युवाओं को निजी क्षेत्रों में नौकरी मिली है। वहीं उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार का दावा है कि अगले चार महीने में लगभग दो लाख युवाओं को रोजगार (Job) देने का लक्ष्य बनाया गया है। सरकार ने इसके लिये यूपी कौशल विकास को इस कार्य में लगाया है।

ये है ट्रेनिंग का समय 

PMKVY योजना में 3 महीने, 6 महीने और 1 साल के लिए ट्रेनिंग पाठ्यक्रम चलाए जाते हैं। ट्रेनिंग पूरी होने के बाद युवाओं का SSC द्वारा स्वीकृत मूल्यांकन एजेंसी की ओर से मूल्यांकन किया जाएगा। पास होने पर वैध आधार (AADHAAR) नंबर के साथ आपको सरकारी सर्टिफिकेट और स्किल कार्ड मिलता है।

कैसे करायें कौशल विकास योजना में रजिस्ट्रेशन?

  1. प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) में आवेदक को अपना नामांकन कराना जरूरी होता है। इसके लिए http://pmkvyofficial.org पर जाकर अपना नाम, पता और ईमेल आदि जानकारी भरनी होती है। 
  2. फार्म भरने के बाद आवेदक जिस तकनीकी क्षेत्र में ट्रेनिंग करना चाहता है उसे चुनना होगा
  3. PMKVY में कंस्ट्रक्शन, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं हार्डवेयर, फूड प्रोसेसिंग,फर्नीचर और फिटिंग, हैंडीक्रॉफ्ट, जेम्स एवं ज्वेलरी और लेदर टेक्नोलॉजी जैसे करीब 40 तकनीकी क्षेत्र दिये गए हैं।
  4. PMKVY में पसंदीदा तकनीकी क्षेत्र के एक अतिरिक्त तकनीकी क्षेत्र का भी चयन करना होगा
  5. इसके बाद अपने ट्रेनिंग सेंटर का चयन करना होगा।

Latest Business News