Sunday, July 14, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. गैजेट
  4. डोनाल्‍ड ट्रंप के इस फैसले से आईफोन की बिक्री घटने की आशंका, चीन में 30 प्रतिशत कम बिकेंगे फोन

डोनाल्‍ड ट्रंप के इस फैसले से आईफोन की बिक्री घटने की आशंका, चीन में 30 प्रतिशत कम बिकेंगे फोन

अमेरिकी सरकार एप्पल को केवल यूएस एप स्टोर से वीचैट को हटाने के लिए मजबूर करती है, तो वैश्विक आईफोन शिपमेंट में 3 से 6 प्रतिशत की गिरावट आएगी।

Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: August 11, 2020 14:48 IST
iPhone Shipments Could Decline up to 30 percent if WeChat Removed from Apple App Store - India TV Paisa
Photo:FORBES

iPhone Shipments Could Decline up to 30 percent if WeChat Removed from Apple App Store 

बीजिंग। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा एप्पल के एप स्टोर में लोकप्रिय मैसेजिंग एप वीचैट पर प्रतिबंध लगाने पर चीनी बाजार में आईफोन शिपमेंट में 25-30 प्रतिशत की गिरावट आ सकती है। यह भविष्यवाणी प्रसिद्ध विश्लेषक मिंग-ची कू ने की है।

मैक रयूमर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, एप्पल के विश्लेषक ने यह भी अनुमान लगाया है कि इससे आईपैड, एप्पल वॉच, और मैक सहित अन्य एप्पल हार्डवेयर उपकरणों के वार्षिक शिपमेंट में 15 से 25 प्रतिशत तक फर्क आएगा। कू के हवाले से लिखा गया है कि क्योंकि वीचैट चीन में एक दैनिक आवश्यकता बन गया है। संदेश, भुगतान, ई-कॉमर्स, सोशल नेटवर्किंग, समाचार पढ़ने जैसे कई काम इसके जरिए होते हैं। यदि ऐसा मामला है तो हम मानते हैं कि चीनी बाजार में एप्पल के हार्डवेयर उत्पादों के शिपमेंट में काफी गिरावट आएगी।

यदि अमेरिकी सरकार एप्पल को केवल यूएस एप स्टोर से वीचैट को हटाने के लिए मजबूर करती है, तो वैश्विक आईफोन शिपमेंट में 3 से 6 प्रतिशत की गिरावट आएगी। एप्पल के लिए चीनी बाजार की अहमियत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसके जून तिमाही के राजस्व का लगभग 15 फीसदी हिस्सा 144 करोड़ की आबादी वाले चीन से आया है।

ऐसे में यहां के लोकप्रिय चीनी मैसेजिंग एप पर वैश्विक प्रतिबंध लगाना एप्पल के लिए विनाशकारी साबित होगा। चीनी शॉर्ट वीडियो एप टिकटॉक पर प्रतिबंध के आदेश के बाद ट्रंप ने वीचैट के लिए भी ऐसा ही कार्यकारी आदेश जारी किया है। वीचैट की मालिक चीनी कंपनी टेंसेंट होल्डिंग्स लिमिटेड ने कहा है कि वह चीजों को पूरी तरह समझने के लिए कार्यकारी आदेश की समीक्षा कर रही है। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Gadgets News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement