1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. कोरोना संकट के बीच शेयर बाजार की तेजी से फीकी पड़ी सोने-चांदी की चमक

Gold Silver Price 17th April 2020: कोरोना संकट के बीच शेयर बाजार की तेजी से फीकी पड़ी सोने-चांदी की चमक

अंतर्राष्ट्रीय बाजार से मिले कमजोर संकेतों से शुक्रवार को घरेलू वायदा बाजार में सोने और चांदी के दाम में भारी गिरावट दर्ज की गई।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 17, 2020 14:56 IST
gold and silver Price, gold Price, silver Price- India TV Paisa
Photo:@TWITTER

gold and silver Price

मुंबई। कोरोना के कहर के बीच वैश्विक शेयर बाजारों में आई तेजी से सोने और चांदी की चमक फीकी पड़ गई है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार से मिले कमजोर संकेतों से शुक्रवार को घरेलू वायदा बाजार में सोने और चांदी के दाम में भारी गिरावट दर्ज की गई। घरेलू वायदे में पिछले सत्र में 47000 रुपये प्रति 10 ग्राम के पार की रिकॉर्ड उंचाई बनाने के बाद सोने का भाव 46000 रुपये प्रति 10 ग्राम से भी नीचे आ गया है।

एमसीएक्स पर सोना गुरुवार को 47327 रुपये प्रति 10 ग्राम तक उछला था, जो कि अब तक का रिकॉर्ड स्तर है। देश के सबसे बड़े कमोडिटी वायदा बाजार मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज यानी एमसीएक्स पर मध्यान्ह 12.38 बजे सोने के जून अनुबंध में पिछले सत्र से 1278 रुपये यानी 2.70 फीसदी की कमजोरी के साथ 45980 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार चल रहा था। जबकि इससे पहले सोने का भाव 45614 रुपये प्रति 10 ग्राम तक फिसला। वहीं चांदी के मई अनुबंध में पिछले सत्र से 1280 रुपये यानी 2.89 फीसदी की कमजोरी के साथ 42975 रुपये प्रति किलो पर कारोबार चल रहा था, जबकि इससे पहले चांदी का भाव 42752 रुपये प्रति किलो तक फिसला।

उधर, अंतराष्ट्रीय वायदा बाजार कॉमेक्स पर सोने के जून अनुबंध में पिछले सत्र से 18.45 डॉलर यानी 1.07 फीसदी की गिरावट के साथ 1713.25 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था। बता दें कि 14 अप्रैल को कॉमेक्स पर सोने का भाव 1788.80 डॉलर प्रति औंस तक उछला था। कॉमेक्स पर चांदी के मई अनुबंध में पिछले सत्र से 1.74 फीसदी की गिरावट के साथ 15.35 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था। कमोडिटी बाजार के जानकारों ने बताया कि शेयर बाजार में आई तेजी के कारण पीली धातु के भाव पर दबाव आया है, लेकिन सोने में बहरहाल फंडामेटल्स तेजी के हैं, क्योंकि कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण वैश्विक मंदी की आशंका बनी हुई है।

Write a comment