1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. चौतरफा खरीदारी से बाजार में बड़ा उछाल, सेंसेक्स 300 और निफ्टी 80 अंक उछला, ये हैं वजह

चौतरफा खरीदारी से बाजार में बड़ा उछाल, सेंसेक्स 300 और निफ्टी 80 अंक उछला, ये हैं वजह

जीएसटी के सही तरीके से लागू होने से घरेलू शेयर बाजार में चौतरफा खरीदारी देखने को मिल रही है। इस तेजी में सेंसेक्स 300 और निफ्टी 80 अंक उछल गया है।

Ankit Tyagi Ankit Tyagi
Updated on: July 03, 2017 13:18 IST
चौतरफा खरीदारी से बाजार में बड़ा उछाल, सेंसेक्स 300 अंक उछला, निफ्टी 9600 के पार, ये हैं वजह- India TV Paisa
चौतरफा खरीदारी से बाजार में बड़ा उछाल, सेंसेक्स 300 अंक उछला, निफ्टी 9600 के पार, ये हैं वजह

नई दिल्ली। जीएसटी के सही तरीके से लागू होने से घरेलू शेयर बाजार में चौतरफा खरीदारी देखने को मिल रही है। साथ ही, कोर सेक्टर के अनुमान से बेहतर आंकड़ों ने बाजार को रफ्तार देने का काम किया है। बाजार की इस तेजी में सेंसेक्स-निफ्टी 1 फीसदी से ज्यादा उछल गए है।  फिलहाल (1:12 PM) BSE का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 300 अंक की तेजी के साथ 31207 के स्तर पर और NSE का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 80 अंक बढ़कर 9605 के स्तर पर पहुंच गया है।

क्यों है बाजार में तेजी

एक्सपर्ट्स के मुताबिक कोर सेक्टर के आंकड़े इकोनॉमी में बेहतरी के संकेत दे रहे हैं। मई में कोर सेक्टर की ग्रोथ में बढ़त दर्ज की गई है। मई में कोर सेक्टर की ग्रोथ बढ़कर 3.6 फीसदी रही है। अप्रैल में कोर सेक्टर की ग्रोथ 2.8 फीसदी रही थी। साथ ही, ITC के शेयर में तेजी से बाजार में उछाल आया है, क्योंकि जीएसटी में सिगरेट पर टैक्स को लेकर स्थिति साफ हो गई है।
आईटीसी के शेयर में 6 फीसदी का उछाल
आईटीसी के शेयर में करीब 6 फीसदी की तेजी देखी जा रही है। दरअसल सिगरेट पर जीएसटी को लेकर तस्वीर साफ हो गई है। गौरतलब है कि कंपनियों को अतिरिक्त एक्साइज ड्यूटी लगने का डर था। हालांकि कंपनियों को एनसीसीडी, जीएसटी और सेस भरना होगा। ऐसे में माना जा रहा है कि आईटीसी कीमतों में 4-5 फीसदी की कटौती कर सकती है।

अब आगे क्या
मार्केट एक्सपर्ट अजय बग्गा का कहना है कि जीएसटी के 2-3 सप्ताह बीत जाने के बाद घरेलू कारणों से बाजार में तेजी देखने को मिलेगी जबकि इससे ऑटो सेक्टर की बिक्री के नंबर पर कोई असर नहीं होगा लेकिन इन सेक्टर के मार्जिन पर हल्का सा दबाव रह सकता है। वहीं ब्रॉडेड प्लेयर्स के लिए जीएसटी काफी फायदेमंद है। अजय बग्गा ने आगे कहा कि बैंकिंग सेक्टर में अगले 12-18 महीनों में एनपीए पर फोकस के कारण इस सेक्टर की स्थिति में सुधार होने की संभावनाएं है। लिहाजा चुनिंदा पब्लिक सेक्टर बैंक में निवेश कर सकते है। प्राइवेट सेक्टर बैंक में जिन बैंकों को ज्यादा फोकस कंज्यूमर पर है उन बैंक में निवेश कर सकते है क्योंकि आनेवाले दिनों में इनमें और भी ग्रोथ रहने की उम्मीद है। यह भी पढ़े: GST से बढ़ेगी भारत की GDP ग्रोथ, रेटिंग सुधारने में भी मिलेगी मदद : मूडीज

क्या करें निवेशक
इक्विटीरश के कुणाल सरावगी का कहना है कि मारुति सुजुकी अच्छा प्रदर्शन करते नजर आ रहे है। मारुति सुजुकी ने बाजार में लगातार आउटपरफॉर्म किया है। हालांकि पिछले कुछ दिनों में इसमें हल्का सा करेक्शन देखने को मिला है। लेकिन आनेवाले दिनों में इसमें तेजी की संभावनाएं बनी हुई है। लिहाजा 7100 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ मारुति सुजुकी खरीदारी करने की सलाह होगी।मौजूदा समय में बैंक ऑफ बडौदा में खरीदारी की राय नहीं होगी। हालांकि आज के सत्र में इसमें निचले स्तर से काफी अच्छा मुव देखने को मिला है। जब तक इसमें 165 रुपये के स्तर को पार नहीं करता तब तक इसमें खरीदारी की राय नहीं होगी। रिलायंस डिफेंस में 67 रुपये के स्तर पर रजिस्टेंस बना हुआ है जिसके चलते इसमें 58 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ खरीदारी की जा सकती है। यह भी पढ़े: GST के बाद साबुन-डिटर्जेंट हुए सस्‍ते, हिंदुस्तान यूनिलीवर ने कुछ प्रोडक्‍ट्स के दाम में की कटौती

विदेशी ब्रोकरेज हाउसेज ने बढ़ाया ITC का लक्ष्य

आईटीसी
मैक्वायरी ने आईटीसी पर आउटपरफॉर्म रेटिंग कायम रखते हुए लक्ष्य 385 रुपए प्रति शेयर का तय किया है। सीएलएसए ने आईटीसी पर निवेश की सलाह बरकरार रखते हुए लक्ष्य 375 से बढ़ाकर 417 रुपए का तय किया है। बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच ने आईटीसी पर निवेश की सलाह रखते हुए लक्ष्य 360 से बढ़ाकर 390 रुपए का तय किया है। क्रेडिट सुइस ने आईटीसी पर आउटपरफॉर्म रेटिंग कायम रखते हुए लक्ष्य 360 से बढ़ाकर 400 रुपए का तय किया है। जेपी मॉर्गन ने आईटीसी पर ओवरवेट रेटिंग बरकरार रखते हुए लक्ष्य 350 रुपए प्रति शेयर का तय किया है। मॉर्गन स्टैनली ने आईटीसी पर ओवरवेट रेटिंग बरकरार रखते हुए लक्ष्य 310 रुपए प्रति शेयर का तय किया है।

chunav manch
Write a comment
chunav manch
bigg-boss-13