1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. एक हजार दवाओं के सस्ता होने से जनता को साढ़े 12 हजार करोड़ की बचत : प्रधानमंत्री

एक हजार दवाओं के सस्ता होने से जनता को साढ़े 12 हजार करोड़ की बचत : प्रधानमंत्री

योजना के तहत 900 दवाए, 150 सर्जिकल उपकरण सस्ती दरों पर उपलब्ध

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: March 07, 2020 13:03 IST
PM Narendra Modi- India TV Paisa
Photo:TWITTER

PM Narendra Modi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को जन औषधि दिवस के मौके पर सस्ती दवाओं का लाभ पा रहे लाभार्थियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की। एक से सात मार्च के बीच आयोजित हुए जन औषधि सप्ताह के आखिरी दिन ये संवाद किया गया। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जन औषधि परियोजना के कारण पहले की तुलना में अब इलाज पर खर्च काफी कम हो रहा है। उनके मुताबिक अब तक पूरे देश में करोड़ों लोगों को 2000 से 2500 करोड़ रुपए की बचत सिर्फ जन औषधि केंद्रों के कारण हुई है।

प्रधानमंत्री मोदी ने बताया कि आज हर महीने एक करोड़ से अधिक परिवार इन जन औषधि केंद्रों के माध्यम से बहुत सस्ती दवाइयां ले रहे हैं। जैसे-जैसे ये नेटवर्क बढ़ रहा है, वैसे-वैसे इसका लाभ भी अधिक से अधिक लोगों तक पहुंच रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने जन औषधि केंद्रों में दवाओं के दाम नियंत्रित करने से लोगों को पहुंच रहे फायदे की भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आज 1,000 से ज्यादा जरूरी दवाओं की कीमत नियंत्रित होने से जनता के करीब साढ़े 12 हजार करोड़ बचे हैं। वहीं करीब 90 लाख गरीब लोगों को आयुष्मान योजना के तहत लाभ मिला है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि परियोजना यानि पीएम-बीजेपी का देश के हर व्यक्ति तक सस्ता और उत्तम इलाज पहुंचाने का संकल्प है। मुझे बहुत संतोष है कि अब तक छह हजार से अधिक जन औषधि केंद्र पूरे देश में खुल चुके हैं। बता दें कि केंद्र सरकार की ओर से शुरू भारतीय जन औषधि परियोजना के तहत देश में 6,200 जन औषधि केंद्र खुले हैं। जहां नौ सौ प्रकार की दवाएं और 154 सर्जिकल उपकरण बाजार रेट से काफी सस्ते दर पर उपलब्ध हैं। दावा है कि सात सौ जिलों में खुले इन औषधि केंद्रों के जरिए जनता को 50 से 90 प्रतिशत तक की बचत हो रही है।

Write a comment
X