1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. मेरा पैसा
  5. 6 करोड़ लोगों के EPF खाते में 31 दिसंबर से पहले आएगा पैसा, मिस्‍डकॉल देकर पता करें अपना बैलेंस

6 करोड़ लोगों के EPF खाते में 31 दिसंबर से पहले आएगा पैसा, EPFO को मिस्‍डकॉल देकर पता करें अपना बैलेंस

श्रम मंत्रालय ने अब वित्त मंत्रालय को एक प्रस्ताव भेजकर वित्त वर्ष 2019-20 के लिए देय ब्याज की रकम को 8.5 प्रतिशत की दर से एकबार में ही ईपीएफ खाते में डालने का सुझाव दिया है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: December 17, 2020 19:46 IST
Interest on EPF Accounts likely to be credited by 31st december- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

Interest on EPF Accounts likely to be credited by 31st december

नई दिल्‍ली। रिटायरमेंट फंड बॉडी कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) अपने 6 करोड़ से अधिक सब्‍सक्राइर्ब्‍स को जल्‍द खुशखबरी देने वाला है। ईपीएफओ अपने अंशधारकों के कर्मचारी भविष्‍य निधि (EPF) खाते में 31 दिसंबर से पहले वित्‍त वर्ष 2019-20 के लिए एकमुश्‍त 8.5 प्रतिशत ब्‍याज का भुगतान करने की तैयारियों में जुटा हुआ है। इससे पहले सितंबर, 2020 में केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने कहा था कि न्‍यासियों की बैठक में वित्‍त वर्ष 2019-20 के ब्‍याज को दो किस्‍तों 8.15 प्रतिशत और 0.35 प्रतिशत के रूप में देने का फैसला किया गया है।

समाचार एजेंसी पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से कहा कि श्रम मंत्रालय ने अब वित्‍त मंत्रालय को एक प्रस्‍ताव भेजकर वित्‍त वर्ष 2019-20 के लिए देय ब्‍याज की रकम को 8.5 प्रतिशत की दर से एकबार में ही ईपीएफ खाते में डालने का सुझाव दिया है। मंत्रालय ने यह प्रस्‍ताव इसी महीने की शुरुआत में भेजा है। सूत्रों ने बताया कि इस प्रस्‍ताव पर वित्‍त मंत्रालय की मंजूरी जल्‍द ही मिलने की उम्‍मीद है। ऐसे में इस बात की संभावना प्रबल है कि अंशधारकों के खातों में ब्‍याज की रकम इसी महीने के अंत तक जमा करा दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: नए साल से स्‍कूटर-मोटरसाइकिल खरीदना होगा महंगा, जानिए क्‍यों और कितनी बढ़ेगी कीमत

इससे पहले वित्त मंत्रलय ने बीते वित्त वर्ष के लिए ब्याज पर कुछ स्पष्टीकरण मांगा था। वित्त मंत्रालय को यह स्पष्टीकरण दे दिया गया है। श्रम मंत्री गंगवार की अगुवाई वाले EPFO के निर्णय लेने वाले शीर्ष निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड (CBT) की मार्च में हुई बैठक में वित्‍त वर्ष 2019-20 के लिए ईपीएफ पर 8.5 प्रतिशत ब्याज दर को मंजूरी दी गई थी। CBT की मार्च में हुई बैठक में 8.5 प्रतिशत के ब्याज देने की प्रतिबद्धता को पूरा करने का फैसला किया गया था। लेकिन इसके साथ ही सीबीटी ने तय किया था कि 8.5 प्रतिशत के ब्याज को दो किस्तों 8.15 प्रतिशत और 0.35 प्रतिशत में अंशधारकों के खातों में डाला जाएगा।

यह भी पढ़ें:  EPFO ने किया 52 लाख COVID-19 दावों का निपटान, सदस्‍यों को दिए 13,300 करोड़ रुपये

एक मिस्ड कॉल से पता चलेगा EPF का बैलेंस

यूएएन पोर्टल पर रजिस्टर्ड सदस्य मिस्ड कॉल देकर अपने अकाउंट का बैलेंस जान सकते हैं। अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से 011-22901406 पर मिस्ड कॉल दें। इसके बाद EPFO के संदेश के जरिये EPF की डिटेल मिल जाएगी। ये कॉल दो घंटी के बाद अपने आप कट जाएगा। इस सर्विस के लिए कोई भी पैसा नहीं लगेगा। EPFO यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन) की सर्विस देता है, जिसके जरिये अकाउंट धारक अपने EPF अकाउंट बैलेंस देख सकते हैं। ये नंबर बैंक अकाउंट की तरह ही होता है। अपने यूएएन नंबर को एक्टिवेट करने के लिए इस लिंक https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface पर क्लिक कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: 

सरकार ने इसलिए कहा इन 6 फर्जी वेबसाइट से रहें सावधान, हो सकता है आपको लाखों का नुकसान

हाईवे पर नहीं रहेंगे टोल प्लाजा, जानिए अब कैसा होगा आपका सफर

 

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X