1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दाम घटने व शुल्‍क कटौती से सोने का आयात साढ़े पांच गुना बढ़ा, मार्च में आया 160 टन गोल्‍ड

दाम घटने व शुल्‍क कटौती से सोने का आयात साढ़े पांच गुना बढ़ा, मार्च में आया 160 टन गोल्‍ड

जीजेईपीसी ने कहा कि सोने के आयात में वृद्धि मुख्य रूप से लॉकडाऊन में ढील, भारत में शादी विवाह के मौसम, व्यापार और उपभोक्ता धारणा में सुधार आने से हुई है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 21, 2021 9:08 IST
Gold imports surge to 160 tonnes in March on price drop, duty cut- India TV Paisa
Photo:FORBES

Gold imports surge to 160 tonnes in March on price drop, duty cut

नई दिल्‍ली। रत्न एवं आभूषण निर्यात संवर्धन परिषद (GJEPC) ने मंगलवार को कहा कि शुल्क कम कर 7.5 प्रतिशत करने, बहुमूल्य धातु की कीमत में कमी तथा निर्यात बाजारों की मांग बढ़ने से मार्च में सोने का आयात बढ़कर 160 टन हो गया। जीजेईपीसी के आंकड़ों के मुताबिक 2019-20 के दौरान मार्च में सोने का आयात 28.09 टन हुआ था। इस लिहाज से देखा जाए तो पिछले मार्च की तुलना में इस बार मार्च में लगभग साढ़े पांच गुना अधिक सोने का आयात हुआ है।

जीजेईपीसी ने कहा कि सोने के आयात में वृद्धि मुख्य रूप से लॉकडाऊन में ढील, भारत में शादी विवाह के मौसम, व्यापार और उपभोक्ता धारणा में सुधार आने से हुई है। इसके साथ ही हाल ही में सोने की कीमतों में भारी गिरावट आने के बाद अमेरिका, ब्रिटेन जैसे निर्यात बाजारों से रत्न और आभूषण उत्पादों की मांग में वृद्धि के कारण हुई है। जीजेईपीसी का मानना है कि उक्त अवधि में घरेलू बाजार और विभिन्न देशों में त्यौहारों का समय होने, खनन और निर्यात गतिविधियों के फिर से शुरू होने, घरेलू और वैश्विक बाजार में उत्पादन गतिविधियों के फिर से शुरू होने, कोरोना टीके का विकास तथा टीकाकरण की शुरुआत तथा यात्रा में छूट जैसे कई वजहों से सोने की मांग में वृद्धि हुई है।

जीजेईपीसी के अध्यक्ष कॉलिन शाह ने कहा कि हमें एक उचित निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए आगामी महीनों में समग्र बाजार के रुझान का समग्र रूप से निरीक्षण करना होगा। उन्‍होंने कहा कि सबसे महत्‍वपूर्ण बात यह है कि 2018-19 में वार्षिक औसत आयात जो 80 टन था, वह पिछले साल घटकर 50 टन रह गया।

सोने की कीमत में कमी आने से भी इसकी मांग में वृद्धि हुई है। शाह ने कहा कि सोने की कीमतों में बहुत अधिक गिरावट आई है और उपभोक्‍ता एवं निवेशक इसे एक अवसर के रूप में देख रहे हैं। क्‍योंकि इतनी कम कीमत भविष्‍य में संभव नहीं हो सकती है। मार्च 2021 में सोने की कीमत औसत रूप से घटकर 40,179 रुपये प्रति दस ग्राम रही है, जो अप्रैल 2020 से फरवरी 2021 की तुलना में सबसे कम कीमत है।  

इम्‍पोर्ट ड्यूटी घटने से सोने का आयात आधिकारिक तरीके से करने को भी प्रोत्‍साहन मिला है। शाह ने कहा कि सरकार द्वारा सोने पर आयात शुल्‍क में कटौती बहुत ज्‍यादा नहीं है लेकिन इससे शुल्‍क को अन्‍य देशों के बराबर करने में मदद मिली है और इससे आधिकारिक चैनल के जरिये कीमती धातुओं के आयात को बढ़ावा भी मिला है।

Bajaj Auto ने लॉन्‍च की Pulsar NS 125 मोटरसाइकिल, जानिए कितनी है कीमत

कोरोना की दूसरी लहर के बीच वित्‍त मंत्रालय ने किया बड़ी मदद का ऐलान...

देश से Covid-19 को खत्‍म करने के लिए मोदी सरकार का बड़ा कदम...

गोल्‍ड ज्‍वेलरी के लिए अनिवार्य हॉलमार्किंग 1 जून से होगा लागू या नहीं?

1998-99 के बाद पहली बार पेट्रोल-डीजल व अन्‍य ईंधन का हुआ ये हाल...

Write a comment
X