1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. गूगल थर्ड पार्टी एप प्रोवाइडर, पेमेंट सिस्टम ऑपरेटर नहीं: आरबीआई

गूगल थर्ड पार्टी एप प्रोवाइडर, पेमेंट सिस्टम ऑपरेटर नहीं: आरबीआई

एक जनहित याचिका में आरोप है कि गूगल पे बिना वैध अनुमति के भुगतान के काम कर रहा

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: June 24, 2020 16:11 IST
- India TV Paisa

RBI clarification on GPay

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने दिल्ली उच्च न्यायालय को बताया कि गूगल पे एक तृतीय पक्ष एप प्रदाता (third party app provider-TPAP) है और यह किसी भुगतान प्रणाली को संचालित नहीं करता है। आरबीआई ने मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति प्रतीक जालान की पीठ को बताया कि इस वजह से गूगल पे के संचालन से 2007 के भुगतान तथा निपटान प्रणाली कानून का उल्लंघन नहीं होता है। आरबीआई ने अदालत को यह भी बताया कि गूगल पे किसी भुगतान प्रणाली का संचालन नहीं करता है, इसलिए वह नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) की अधिकृत भुगतान प्रणाली परिचालकों की सूची में शामिल नहीं है।

अर्थशास्त्री अभिजीत मिश्रा ने एक जनहित याचिका में आरोप लगाया था कि गूगल का मोबाइल भुगतान एप गूगल पे या संक्षेप में GPay, आरबीआई से अपेक्षित मंजूरियों के बिना वित्तीय लेनदेन की सुविधा दे रहा है। इस याचिका के जवाब में आरबीआई ने कोर्ट में ये बातें कही। मिश्रा ने दावा किया है कि जीपे भुगतान और निपटान कानून का उल्लंघन कर एक भुगतान प्रणाली प्रदाता के रूप में कार्य कर रहा है, जबकि उसके पास इस तरह के कार्यों के लिए देश के केंद्रीय बैंक से कोई वैध अनुमति नहीं है। पीठ ने कहा कि मामले की विस्तृत सुनवाई की जरूरत है क्योंकि यह अन्य तीसरे पक्ष के एप को प्रभावित करता है। इस मामले की अगली सुनवाई 22 जुलाई को होगी।

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020  कवरेज
X