1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. पेंडोरा पेपर्स मामले में बहु एजेंसी समूह करेगा जांच की निगरानी, 300 से अधिक धनी भारतीयों के नाम शामिल

पेंडोरा पेपर्स मामले में बहु एजेंसी समूह करेगा जांच की निगरानी, 300 से अधिक धनी भारतीयों के नाम शामिल

सीबीडीटी चेयरमैन की अध्यक्षता में एक बहु एजेंसी समूह पेंडोरा पेपर्स मामले की जांच की निगरानी करेगा। एक आधिकारिक बयान में सोमवार को यह जानकारी दी गई।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: October 04, 2021 20:59 IST
पेंडोरा पेपर्स मामले में बहु एजेंसी समूह करेगा जांच की निगरानी, 300 से अधिक धनी भारतीयों के नाम शामि- India TV Hindi News
Photo:PIXABAY

पेंडोरा पेपर्स मामले में बहु एजेंसी समूह करेगा जांच की निगरानी, 300 से अधिक धनी भारतीयों के नाम शामिल

नयी दिल्ली: सीबीडीटी चेयरमैन की अध्यक्षता में एक बहु एजेंसी समूह पेंडोरा पेपर्स मामले की जांच की निगरानी करेगा। एक आधिकारिक बयान में सोमवार को यह जानकारी दी गई। दुनिया भर में अमीर व्यक्तियों की वित्तीय संपत्ति का खुलासा करने वाले ‘पेंडोरा पेपर्स’ में कारोबारियों सहित 300 से अधिक धनी भारतीयों के नाम शामिल हैं। हालांकि, इनमें से कई भारतीयों ने कुछ गलत करने के आरोपों को सिरे से खारिज किया है। ‘इंटरनेशनल कंसोर्टियम ऑफ इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिस्ट्स’ ने यह रिपोर्ट जारी की। 

यह रिपोर्ट 117 देशों के 150 मीडिया संस्थानों के 600 पत्रकारों की मदद से तैयार की गई। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने एक बयान में कहा कि सरकार ने इस रिपोर्ट को संज्ञान में लिया है और संबंधित जांच एजेंसियां ​​इन मामलों की पड़ताल करेंगी और कानून के अनुसार उचित कार्रवाई की जाएगी। सीबीडीटी ने कहा, ‘‘सरकार ने आज निर्देश दिया है कि पेंडोरा पेपर्स नाम से मीडिया में आने वाले पेंडोरा पेपर्स लीक के मामलों की जांच की निगरानी सीबीडीटी चैयरमैन की अध्यक्षता में बहु एजेंसी समूह करेगा, जिसमें सीबीडीटी, ईडी, आरबीआई और एफआईयू (वित्तीय खुफिया इकाई) के प्रतिनिधि शामिल होंगे।’’ 

इन मामलों की प्रभावी जांच सुनिश्चित करने के लिए सरकार विदेशी संस्थाओं के साथ भी सक्रिय रूप से जुड़कर काम करेगी। सीबीडीटी ने कहा, ‘‘भारत सरकार भी एक अंतर-सरकारी समूह का हिस्सा है, जिसके तहत इस तरह के लीक से जुड़े कर जोखिमों से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए सहयोग और अनुभव साझा किए जाते हैं।’’ केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने कहा कि अब तक कुछ भारतीयों (कानूनी संस्थाओं के साथ ही व्यक्तियों) के नाम मीडिया में आए हैं।

Latest Business News

Write a comment