1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दूसरी तिमाही नतीजे: ऑयल इंडिया का मुनाफा हुआ दोगुना, BoB का मुनाफा 24 प्रतिशत बढ़ा

दूसरी तिमाही नतीजे: ऑयल इंडिया का मुनाफा हुआ दोगुना, BoB का मुनाफा 24 प्रतिशत बढ़ा

ऑयल इंडिया ने 2021-22 के लिए 3.50 रुपये प्रति शेयर के अंतरिम लाभांश का ऐलान किया है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: November 10, 2021 20:50 IST
ऑयल इंडिया और बैंक ऑफ...- India TV Hindi
Photo:PTI

ऑयल इंडिया और बैंक ऑफ बड़ौदा ने जारी किये नतीजे

नई दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनी ऑयल इंडिया लि. (ओआईएल) का शुद्ध लाभ सितंबर में समाप्त दूसरी तिमाही में दोगुना होकर 504.46 करोड़ रुपये या 4.65 रुपये प्रति शेयर पर पहुंच गया। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 238.95 करोड़ रुपये या 2.20 रुपये प्रति शेयर का मुनाफा कमाया था। कंपनी ने बुधवार को एक बयान में कहा कि तिमाही के दौरान तेल और गैस कीमतों में बढ़ोतरी से उसका मुनाफा बढ़ा है। कंपनी को दूसरी तिमाही में प्रत्येक बैरल कच्चे तेल के उत्पादन पर 71.35 डॉलर प्राप्त हुए। एक साल पहले समान तिमाही में कंपनी को प्रत्येक बैरल पर 42.74 डॉलर प्राप्त हुए थे। इस दौरान कंपनी का तेल उत्पादन 7.6 लाख टन पर स्थिर रहा। वहीं प्राकृतिक गैस का उत्पादन 1.78 प्रतिशत बढ़ गया। तिमाही के दौरान कंपनी का कारोबार बढ़कर 3,678.76 करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 2,281.12 करोड़ रुपये रहा था। चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 1,012.40 करोड़ रुपये रहा। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में कंपनी को 9.66 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। ओआईएल के निदेशक मंडल ने 2021-22 के लिए 3.50 रुपये प्रति शेयर के अंतरिम लाभांश की सिफारिश की है। 

बैंक ऑफ़ बड़ौदा शुद्ध लाभ 24 प्रतिशत बढ़ा 

बैंक ऑफ बड़ौदा का शुद्ध लाभ 30 सितंबर, 2021 को समाप्त तिमाही में 24 प्रतिशत बढ़कर 2,088 करोड़ रुपये हो गया। एक साल पहले की इसी तिमाही में यह 1,679 करोड़ रुपये था। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने बुधवार को शेयर बाजार को भेजी जानकारी में बताया कि चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में उसकी कुल आय घटकर 20,270.74 करोड़ रुपये रह गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 20,729.31 करोड़ रुपये थी। बैंक की चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में ब्याज आय भी 6.33 प्रतिशत घटकर 16,692 करोड़ रुपये रह गई। इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह 17,820 करोड़ रुपये थी। इसके अलावा 30 सितंबर, 2021 को समाप्त तिमाही में बैंक की गैर-ब्याज आय 23 प्रतिशत बढ़कर 3,579 करोड़ रुपये हो गयी। एक साल पहले की इसी तिमाही में यह 2,910 करोड़ रुपये थी। आलोच्य तिमाही में बैंक की सकल गैर निष्पादित आस्तियां (एनपीए) घटकर 8.11 प्रतिशत रह गईं, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 9.14 प्रतिशत थीं। हालांकि, बैंक का शुद्ध एनपीए 2.51 प्रतिशत से बढ़कर 2.83 प्रतिशत पर पहुंच गया। 

Latest Business News

gujarat-elections-2022