ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. आर्थिक आंकड़े और वैक्सीन से जुड़ी खबरों से तय होगी बाजार की चाल, इस हफ्ते आएंगे तिमाही परिणाम

आर्थिक आंकड़े और वैक्सीन से जुड़ी खबरों से तय होगी बाजार की चाल, इस हफ्ते आएंगे तिमाही परिणाम

विश्लेषकों के अनुसार इस सप्ताह घरेलू शेयर बाजारों को वृहत आर्थिक आंकड़े, टीकाकरण से जुड़ी खबरों और कंपनियों के तिमाही वित्तीय परिणाम से दिशा मिलेगी।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 03, 2021 12:52 IST
आर्थिक आंकड़े और...- India TV Paisa
Photo:PTI

आर्थिक आंकड़े और वैक्सीन से जुड़ी खबरों से तय होगी बाजार की चाल, इस हफ्ते आएंगे तिमाही परिणाम 

नयी दिल्ली। विश्लेषकों के अनुसार इस सप्ताह घरेलू शेयर बाजारों को वृहत आर्थिक आंकड़े, टीकाकरण से जुड़ी खबरों और कंपनियों के तिमाही वित्तीय परिणाम से दिशा मिलेगी। सकारात्मक वैश्विक प्रवृत्ति और कोरोना वायरस टीकाकरण को लेकर खबरों से पिछले सप्ताह मानक सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी दैनिक आधार पर रिकार्ड स्तर पर रहें। साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 895.44 अंक यानी 1.90 प्रतिशत जबकि निफ्टी 269.25 अंक यानी 1.95 प्रतिशत मजबूत हुए। 

रेलिगेयर ब्रोकिंग लि.के उपाध्यक्ष अजित मिश्रा ने कहा, ‘‘इस सप्ताह कंपनियों के तिमाही वित्तीय परिणाम आने लगेंगे। इसकी शुरूआत आठ जनवरी को टीसीएस के वित्तीय परिणाम आने के साथ होगी। आर्थिक मोर्चे पर निवेशकों की नजर पीएमआई (परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स) विनिर्माण और सेवा आंकड़ों पर होगी। विदेशी पूंजी प्रवाह जारी रहने से बाजार में तेजी बनी हुई है।’’ हालांकि उन्होंने कहा कि मानक सूचकांकों में पिछले सप्ताह की तेजी में ठोस कारणों का अभाव था। ऐसे में आने वाले समय में मुनाफावसूली या कुछ सुधार देखने को मिल सकता है। 

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज लि.के खुदरा शोध प्रमुख सिद्धार्थ खेमका ने कहा, ‘‘कंपनियों के दिसंबर तिमाही के वित्तीय परिणाम और केंद्रीय बजट बाजार के लिये महत्वपूर्ण घटनाक्रम होंगे।’’ जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘बाजार की प्रवृत्ति कंपनियों के जारी होने वाले वित्तीय परिणाम से तय होगी। सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) और बैंक शेयर सुर्खियों में रहेंगे। इसका कारण इन क्षेत्रों की बड़ी कंपनियां आने वाले दिनों में वित्तीय परिणाम जारी कर सकते हैं।’’ 

नायर ने कहा कि कंपनियों के तिमाही परिणाम में सुधार से बाजार में तेजी बनी रह सकती है। सैमको सिक्योरिटीज की वरिष्ठ शोध विश्लेषक निराली शाह ने कहा, ‘‘निवेशकों की नजर वैश्विक प्रवृत्ति खासकर अमेरिका में राजनीतिक घटनाक्रमों पर होगी जहां सत्ता परिवर्तन अंतिम चरण में है। इससे बाजार को कुछ समय के लिये गति मिल सकती है। इसके अलावा घरेलू कंपनियों के वित्तीय तिमाही परिणाम से भी बाजार को दिशा मिलेगी।’’ बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी ने वर्ष 2020 में कुल मिलाकर करीब 15 प्रतिशत का लाभ दिया। सेंसेक्स में 15.7 प्रतिशत जबकि निफ्टी में 14.9 प्रतिशत की तेजी आयी। 

Write a comment
elections-2022